Mumbai

अब बन रहा है ‘मातोश्री-2’

0

अब शिवसैनिकों के लिए एक नहीं बल्कि दो दरबार में हाज़री लगाना पड़ेगा। क्योंकि शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे नया आशियाना ‘मातोश्री-2’ बनवा रहे हैं। ये नया मातोश्री उस मातोश्री के ही ठीक सामने ही है यानी  बांद्रा ईस्ट के कलानगर में ही। उद्धव के इस नए आशियाने का कंस्ट्रक्शन तकरीबन 10 हजार स्क्वेयर फीट में  होगा। यह 6 मंज़िल,  हर फ्लैट में पांच बेडरूम और एक स्टडी रूम होगा। इसके अलावा बेसमेंट और स्टिल्ट पार्किंग भी होगी।

Image result for Matoshree 2

इस वक़्त उद्धव अपने पूरे परिवार के साथ फिलहाल कलानगर के ही ‘मातोश्री’ बंगले में रहते हैं। ‘मातोश्री’ शिवसेना की फाउंडेशन के वक्त से ही है। माना जाता है की शिवसैनिकों में मातोश्री को लेकर काफी आस्था और आदर है। कोई भी नेता या पार्टी कोई भी नया काम इसकी शुरुआत मातोश्री से ही की जाती है। शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे यहीं आखिरी वक्त तक रहे। इस नए मातोश्री के निर्माण को लेकर कहा जा रहा है की शिवसेना परिवार लगातार बड़ा हो रहा है। और खुद ठाकरे परिवार की फैमिली अब बड़ी हो चुकी है और पार्टी के भी बढ़ने के वजह से मातोश्री-2 बनाया जा रहा ताकि ज्यादा जगह मिल सके।

जिस प्लाट पर ठाकरे परिवार का नया आशियाना बन रहा है उसे उद्धव ठाकरे ने 11 करोड़ 60 लाख रुपए में खरीदा है। जिसके मालिक कलाकार केके. हेब्बर थे , लेकिन साल 1993 में उनके निधन के बाद यह जगह उनकी पत्नी के नाम पर हो गई। बाद में श्रीमती हेब्बर ने इसे अपने बेटे-बेटियों के नाम कर दी। मगर उनके बच्चों ने 2007 में प्लॉट प्लेनेटियम इन्फ्रास्ट्रक्चर लि. को 3 करोड़ 5 लाख रुपए में बेच दिया गया।  प्लेनेटियम इन्फ्रास्ट्रक्चर लि. के मालिक राजभूषण और जनभूषण दीक्षित ने यहां आठ मंजिला बिल्डिंग बनाने की परमिशन मनपा से ले रखी है।

Image result for Matoshree 2

जब उद्धव ने उनके सामने इस प्लाट को खरीदने की इच्छा जताई तो वन न नहीं कर सके। अब उद्धव ने इसे ‘मातोश्री-2’ बनाने के लिए खरीद लिया है और उन्हें कलानगर सोसायटी  एनओसी भी मिल चुकी है। बताया जा रहा है नए मातोश्री-2’ के निर्माण की ज़िम्मेदारी कंस्ट्रक्शन आर्किटेक्चर फर्म ‘तलाटी एंड पंथकी’ कर रही है।

 

Rahul Pandey

टी वी अभिनेत्री प्रत्युषा बनर्जी पर बनी शार्ट फिल्म बॉयफ्रेंड ने दर्ज कराई शिकायत।

Previous article

संपत्ति के खातिर बेटे ने अपनी मां, पिता और बहन को मौत के घाट उतारा

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami