बीएमसी स्कूलों में वंदे मातरम गाना हुआ अनिवार्य

बृहन्मुंबई महानगर पालिका ने अब बीएमसी के सभी स्कूलों में वंदे मातरम गीत अनिवार्य कर दिया है। बीएमसी के हर स्कूलों में हर हफ्ते में दो बार वन्दे मातरम गीत गाया जाएगा। बता दे कि बीजेपी के नगरसेवक संदीप पटेल ने बीएमसी के हर स्कूलों में वन्दे मातरम गीत हफ्ते में दो बार गाए जाने का प्रस्ताव बीएमसी सदन में पेश किया था। जिसे मुंबई के महापौर ने विश्वनाथ महादेश्वर ने हरी झंडी दे दी। इस प्रश्ताव को मंजूरी के लिए बीएमसी कमिश्नर के पास भेज दिया गाया है।

संदीप पटेल ने हाउस में प्रस्ताव रखते हुए कहा की बीएमसी के हर स्कूलों में वन्दे मातरम हफ्ते में दो बार गाया जाए जिससे बच्चों के अंदर देशभक्ति बढ़ेगी।  तो वही बीएमसी हाउस में इस प्रस्ताव का समाजवादी पार्टी और कांग्रेस पार्टी ने जमकर विरोध किया। महापालिका में समाजवादी पार्टी के नेता रईस शेख ने प्रस्ताव का विरोध करते हुए कहा है कि वो वन्दे मातरम के खिलाफ नहीं है, वो भी अपनी मातृभूमि से प्यार करते है। लेकिन वन्दे मातरम गीत को अनिवार्य ना किया जाए। क्यूंकि हमारा धर्म हमें इज़ाज़त नहीं देता की हम वन्दे मातरम गाए।

वही इसके पहले मद्रास कोर्ट ने तमिल नाडु के सभी स्कूलों में वन्दे मातरम अनिवार्य कर दिया था। जिसके बाद अब बीएमसी ने भी सभी स्कूलों वन्दे मातरम गाए जाने के प्रस्ताव को पारित कर दिया है।


Close Bitnami banner
Bitnami