Maharashtra : महाविकास आघाड़ी सरकार में सियासी घमासान, नाना पटोले ने एनसीपी-शिवसेना पर लगाया ये आरोप

Image Credit : Mid Day

महाराष्ट्र (Maharashtra) की महा विकास आघाड़ी (Maha Vikas Aghadi) सरकार में सहयोगी दलों के बीच मनमुटाव और आरोप-प्रत्यारोप के बीच बयानबाज़ी का दौर लगातार जारी है. ताजा मामले में कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष नाना पटोले (Maharashtra Congress chief Nana Patole) ने दावा किया है कि महाविकास आघाड़ी में सहयोगी शिवसेना (Shiv Sena) और राकांपा (NCP) को लगता है कि उनकी पार्टी के बढ़ते प्रभाव के कारण उनके पैरों तले से जमीन खिसक रही है.

नाना पटोले ने मुंबई से लगभग 125 किलोमीटर दूर एक हिल स्टेशन लोनावला (Lonavala) में पार्टी कार्यकर्ताओं की एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस महाराष्ट्र में खुद को फिर से मजबूत कर रही है और इससे शिवसेना तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में बेचैनी है.

कांग्रेस नेता ने अपने भाषण में शिवसेना और राकांपा का नाम लिये बिना उनका जिक्र किया. कांग्रेस शिवेसना के नेतृत्व वाले तीन दलों के गठबंधन एमवीए की सरकार का हिस्सा है.

नाना पटोले ने यह संकेत देने की भी कोशिश की कि सरकार उनकी गतिविधियों पर नजर रख रही है. उन्होंने कहा, ”हर सुबह 9 बजे, राज्य में क्या हो रहा है, इस पर मुख्यमंत्री और गृह मंत्री को खुफिया रिपोर्ट सौंपी जाती है. कांग्रेस खुद को पुनर्जीवित कर रही है और रिपोर्ट उनके पैरों के नीचे की जमीन खिसका रही है. मैं यहां लोनावला में हूं और यह जानकारी उनके पास जाएगी.”

इस बीच, पटोले ने बाद में एक मराठी समाचार चैनल को बताया कि उनकी आवाजाही पर नजर रखने के उनके बयान का गलत अर्थ निकाला गया है. उन्होंने कहा, ”मैंने कोई टिप्पणी नहीं की है कि राज्य सरकार मुझ पर नजर रख रही है. मेरे आरोप केंद्र के खिलाफ थे. मैं मुंबई लौटने पर स्पष्टीकरण दूंगा.”


Close Bitnami banner
Bitnami