राष्ट्रपति चुनाव- तो ये होगी शिवसेना के समर्थन की शर्त

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह मुंबई में हैं और इस बीच वो मातोश्री जाकर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मिलेंगे। ये मुलाक़ात कई मायनों में अहम, जल्द ही राष्ट्रपति चुनाव होना है और इसके लिए बीजेपी को हर हालत में शिवसेना का साथ चाहिए। दूसरा ये की महाराष्ट्र में साथ रहकर भी दोनों पार्टियों के बीच तल्खी काफी ज़्यादा बढ़ गयी है की नौबत मध्यवर्गीय चुनाव तक जा पहुंची है। दोनों पार्टियों के बड़े नेता एक दूसरे पर वार पलटवार कर रहे हैं। ऐसे में बीजेपी आलाकमान मौजूदा स्तिथि में किसी तरह का रिस्क नहीं चाहते। वो हर हालत में शिवसेना को मना लेना चाहती है।

अगर सूत्रों की मानें तो शिवसेना भी आसानी से नहीं मानने वाली है। वो BJP के सामने राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर शर्त रखेगी। सूत्र बताते हैं की शिवसेना की शर्त है कि अगर बीजेपी आरएसएस चीफ मोहन भागवत के नाम पर राजी नहीं होती है तो एम एस स्वामीनाथन के नाम पर सहमति बने। नहीं तो वो अपने राह पर आगे बढ़ेगी। शिवसेना अपनी इस मांग को BJP अध्यक्ष अमित शाह के सामने भी रखेगी। लेकिन बीजेपी सूत्रों की मानें तो फिलहाल दोनों नामों पर कोई विचार नहीं किया जा रहा है।


Close Bitnami banner
Bitnami