नारायण राणे के बीजेपी में जाने की चर्चा से सेना-बीजेपी नेता नाराज

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता नारायण राणे कांग्रेस छोड़ भाजपा में जाने की चल रही चर्चावों से सिंधुदुर्ग में भाजपा और शिवसेना के नेतावों में भारी नाराजगी है। राणे का भाजपा में जाना तो अभी तय भी नही हुआ है, लेकिन इसके पहले बीजेपी नेताओं ने उनका विरोध करना अभी से शुरू  कर दिया है।

सिंधुदुर्ग में भाजपा के जिला अध्यक्ष प्रमोद जटार ने नारायण राणे का भाजपा में शामिल होने की चल रही चर्चाओं पर विरोध जताते हुए कहा कि पार्टी सिंधुदुर्ग में मजबूत और सक्षम है ,अगर सोचा जा रहा है कि दूसरे पार्टी के नेता को पार्टी में शामिल कर पार्टी और मजबूत होगी तो ये गलत सोच है। नारायण राणे को अगर भाजपा में शामिल किया गया तो भाजपा नेतृत्व को स्थानीय लोगों और कार्यकर्तावों का विरोध का सामना करना पड़ेगा।

आग में तेल डालने का काम करते हुए सिंधुदुर्ग में राणे को हराने वाले शिवसेना विधायक वैभव नाइक ने कहा कि नारायण राणे अपने निजी स्वार्थ और सत्ता का फायदा लेने के लिए भाजपा में जा रहे है,अगर राणे भाजप में शामिल होते है तो उनके स्वार्थीपन का हम जनता के सामने पर्दाफाश करेंगे। उनके भाजपा में शामिल होने से सिंधुदुर्ग में राणे समर्थक और कांग्रेसी भारी संख्या में शिवसेना में शामिल होंगे और शिवसेना सिंधुदुर्ग में और मजबूत होगी।

इसके पहले 13 एप्रिल गुरुवार के दिन नारायण राणे और बेटे नितेश राणे ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से अहमदाबाद मे मुलाकात की थी।इस मुलाकात से राणे का बीजेपी में जाने की बातों को और बल मिला था।अब देखना होगा कि आने वाले दिनों में राणे कौन सा राजनीति भूकंप लाते है। वही आने वाले 18 तारीख को राणे कुछ निर्णय लेंगे ऐसी चर्चा राणे के समर्थकों में चल रही है।


Close Bitnami banner
Bitnami