मुख्यमंत्री ने बुलाई मंत्रियों की बैठक, शिवसेना के मंत्रियों को किया दरकिनार

महाराष्ट्र में पिछले 6 दिनों से चल रहे किसानों के उग्र आंदोलन को देखते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आज शाम को भाजपा के मंत्रियों की आपातकालीन बैठक बुलाई है। इस बैठक में किसानों के कर्ज माफ़ी को लेकर चर्चा होगी और इतना ही नहीं बैठक कोई बड़ा निर्णय लिए जाने की भी आशंका है।

इस बैठक की खास बात ये है की मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सरकार की सहयोगी शिवसेना के मंत्रियों को इस बैठक में आमंत्रित नहीं किया है। बैठक में शिवसेना को आमंत्रित नहीं करने की वजह मुख्यमंत्री की नाराजगी भी हो सकती है क्यूंकि कल ही शिवसेना ने किसान आंदोलन में राजकीय घूसखोरी होने का आरोप मुख्यमंत्री पर लगाया था। जिससे मुख्यमंत्री नाराज बताए जा रहे है।

वही जानकारों का मानना है कि अगर इस बैठक में फडणवीस सरकार किसान कर्ज माफी को लेकर कुछ बड़ा फैसला करती है तो, उसका श्रेय सिर्फ भाजपा को मिले अगर शिवसेना बैठक में शामिल होगी फैसले का श्रेय सेना को भी मिलेगा।

सरकार में भले ही दोनों पार्टी साथ में हो जब कभी भी शिवसेना को मौका मिलता है। तो वो केंद्र और राज्य सरकार पर निशाना साधने में पीछे नहीं हटती। यही वजह है इसबार बीजेपी को मौका मिला है, तो उसने शिवसेना को बैठक में ना बुलाकर ये जता दिया है सत्ता की चाभी उनके पास है।


Close Bitnami banner
Bitnami