Maharashtra : महाराष्ट्र में खुलेंगे सभी धार्मिक स्थल, 4 अक्टूबर से स्कूल खोलने का भी हुआ फैसला

Image Credit: Facebook/UddhavBalasahebThackeray

महाराष्ट्र में कोरोना के कम होते मामलों को देखते हुए सभी धार्मिक स्थल खोले जाने का फैसला लिया गया है. मुख्यमंत्री कार्यालय ने इसकी जानकारी दी है. सीएमओ ने कहा कि नवरात्री के पहले दिन 7 अक्टूबर से सभी धार्मिक स्थल खोले जाएंगे. इस दौरान COVID सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करना होगा.

राज्य में 4 अक्टूबर से स्कूल भी खोले जाने का फैसला लिया गया है. सीएम उद्धव ठाकरे और शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ की बैठक के बाद सरकार ने एलान किया कि शहरी इलाकों में आठवीं से 12वीं तक के कक्षा खोले जाएंगे. बकि पांचवीं से बारहवीं तक के स्कूल ग्रामीण इलाकों में खोले जाएंगे.

बता दें कि महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोविड-19 के 3,286 नए मामलों की पुष्टि हुई है और 51 संक्रमितों की मौत हो गई. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही महाराष्ट्र में अबतक 65,37,843 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है जिनमें से 1,38,776 मरीजों की मौत हुई है.

अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान 3,933 मरीजों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई. इसके साथ ही राज्य में महामारी को अबतक मात देने वालों की संख्या बढ़कर 63,57,012 हो गई है. इस समय राज्य में 39,491 मरीजों का इलाज चल रहा है.

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य के 10 जिले- यवतमाल, भंडारा, गोंदिया, गढ़चिरौली, हिंगोली, वाशिम और जलगांव, नांदेड, अमरावती और नागपुर के ग्रामीण इलाके- रहे जहां पर शुक्रवार को संक्रमण का एक भी नया मामला नहीं आया. भिवंडी-निजामपुर, मालेगांव,परभणी, नांदेड, अकोला और चंद्रपुर नगर निगम क्षेत्र में भी शुक्रवार को कोई संक्रमित नहीं मिला.

अधिकारी ने बताया कि राज्य के अहमदनगर जिले में सबसे अधिक 691 नए मामले आए जबकि मुंबई शहर व उसके उपनगरों में 446 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई. सातारा जिले में सबसे अधिक सात लोगों की मौत दर्ज की गई जबकि मुंबई में छह लोगों की जान गत 24 घंटे के दौरान गई.


Close Bitnami banner
Bitnami