0

शाहजहांपुर स्थित एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा द्वारा यौन शोषण के आरोपों से घिरे स्वामी चिन्मयानंद की मुसीबतें कम होने का नाम ले रही हैं। मामले की जांच कर रही एसआईटी ने स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार किया है। एसआईटी ने उन्हें उनके आश्रम से गिरफ्त में लिया है।

इससे पहले स्वामी चिन्मयानंद को शाहजहांपुर मेडिकल कालेज से गुरुवार शाम को केजीएमयू के लिए रेफर कर दिया गया, लेकिन वह सीधे केजीएमयू नहीं गए। वह मेडिकल कालेज से अपने मुमुक्षु आश्रम पहुंचे।

ज्ञात हो गुरुवार दोपहर मेडिकल कालेज की पीआरओ डा. पूजा पांडेय ने मीडिया को स्वामी चिन्मयानंद की तबीयत के बारे में जानकारी दी थी। उन्होंने बताया कि स्वामी चिन्मयानंद का गुरुवार को पेट का अल्ट्रासाउंड कराया गया है। उन्हें हाइपर टेंशन है, बीपी की दिक्कत है। साथ ही लूज मोशन के कारण कमजोरी हो गई है। उन्होंने कहा था कि उनकी दशा बहुत स्थिर नहीं है।

मालूम हो कि धारा 164 से तहत छात्रा के कलमबंद बयान दर्ज किए जाने के बाद सोमवार देर शाम स्वामी चिन्मयानंद की हालत अचानक बिगड़ गई थी। रात करीब आठ बजे मेडिकल कॉलेज और प्राइवेट डॉक्टरों की टीम आश्रम में उनके आवास दिव्य धाम पहुंची और उपचार किया था।

घर में बही गंगा तो पत्नी करने लगी स्वीम‍िंग, पति ने लगाई आस्था की डुबकी, बाढ़ में मस्ती का वीडियो वायरल 

Previous article

उत्तर प्रदेश :  चिन्मयानंद के बाद रेप के आरोप में बाबा सत्यानंद भारती गिरफ्तार 

Next article

You may also like

More in Crime

Comments

Comments are closed.