0

महाराष्ट्र के यवतमाल में अवनि नाम की बाघिन ने पहले 14 इंसानों को मार डाला. उसके बाद कई दिनों की कोशिशों के बाद जब बाघिन को मारा गया तब बड़ा विवाद खड़ा हो गया है. दो बड़ी हस्तियों ने बाघिन के एनकाउंटर को लेकर आवाज बुलंद कर दी है. केंद्रीय मंत्री और वन्य जीव प्रेमी मेनका गांधी ने महाराष्ट्र सरकार पर बाघिन की हत्या कराने का आरोप लगा दिया है तो राहुल गांधी ने महात्मा गांधी के विचार का जिक्र करते हुए देश की परिस्थिति से बाघिन के एनकाउंटर को जोड़ दिया है.

 

मेनका गांधी ने महाराष्ट्र सरकार के एक मंत्री का नाम लिए बिना गंभीर आरोप लगाए हैं. मेनका गांधी का कहना है कि महाराष्ट्र के एक मंत्री ने हैदराबाद के एक शार्प शूटर शहाफत अली ने संपर्क किया. मेनका गांधी का कहना है कि यह शार्प शूटर एक आतंकी है और आतंकवादियों को हथियार सप्लाई करने के साथ ही इसपर कई हत्याएं व वन्यजीव हत्याओं के आरोप है.

मेनका गांधी के मुताबिक शहाफत ने अपने बेटे असगर अली को भेजकर इस बाघिन की हत्या मंत्री के इशारे पर करवाई. असगर पहले भी कई बाघ, हाथी अन्य कई वन्यजीवों की हत्याएं कर चुका है. नागपुर का वन विभाग नहीं चाहता था कि बाघिन को मारा जाए लेकिन मंत्री ने इन अपराधियों को बुलवाकर अवनी की हत्या करवा दी. इस पूरे मामले में अब मेनका गांधी भी मोर्चे पर आ गई है और वो कार्रवाई कराने की बात कह रही हैं.

मेनका गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का भी साथ मिल गया है. राहुल गांधी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के विचार को ट्विटर पर शेयर करते हुए बाघिन अवनी की मौत से जोड़ दिया है. राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, ”किसी राष्ट्र की महानता उसके जानवरों के प्रति बर्ताव से पहचानी जा सकती है. महात्मा गांधी.” राहुल गांधी ने इस ट्वीट के साथ #Avni का प्रयोग किया.

ABP

100 लोगों की टीम भी नहीं ढूंढ पा रही है खूंखार तेंदुए को, गुजरात विधानसभा के अंदर बैठा

Previous article

VIDEO: ट्रैफिक में इस गलती की वजह से फंस गई हैं एक्ट्रेस रवीना टंडन, FIR दर्ज

Next article

You may also like

More in Crime

Comments

Comments are closed.