धर्म को बाधा नहीं मानती है ये पोल डांसर

कहते है अगर कोई कुछ करने की ठान ले तो वह किसी भी हद तक जा सकता है। मुंबई की एक लड़की ने भी ऐसा ही एक सपना देखा था। उसका सपना था दुनिया की मशहूर पोल डांसर बनाने का, लेकिन उसके रास्ते का सबसे बड़ा रोड़ा था उसका धर्म लेकिन तमाम दुश्वारियों के बाद भी उसने अपनी उड़ान भरी और आज उसका नाम दुनिया के बेहतरीन पोल डांसरों में शुमार है। तो जानिए कैसे मुंबई की रहने वाली एक मुस्लिम लड़की आरिफा भिंडरवाला पोल डांसर बनी। उनकी कहानी किसी फ़िल्मी कहानी से कम नहीं है वो आज कई युवाओं को इंस्पायर कर रही है।

मुंबई में पली बड़ी आरिफा भिंडरवाला एक बोहरी मुस्लिम हैं। उन्हें बचपन से ही डांस करने का शौक था। वो बड़ी होकर पोल डांसर बनाना चाहती थी। लेकिन उनके सामने दो बड़ी समस्या थी पहली की वो मुस्लिम समुदाय से थी तो दूसरी पोल डांस को देश में गंदी नजरों से देखा जाता है। उसे समझ नहीं आ रहा था की अब तक उन्होंने अपने आस पास वैसे लोगों को ही देखा है जो हिजाब में रहती थी। वो कैसे अपने इस सपने को पूरा कर पाएंगी लेकिन उनकी माँ ने उनका खूब साथ दिया आरिफा कहती हैं कि, आज मैं मशहूर पोल डांसर हूँ क्यूंकि मेरी माँ ने मुझे बहुत बड़ा सपोर्ट किया।

आरिफा का कहना है कि, जब मैं पोल डांस करती हूँ तो मुझे आज़ादी का एहसास होता है। पोल डांस एक आर्ट है और उनका सबसे बड़ा पैशन है । पोल डांस उन्हें बहुत पसंद है। भले ही मैं मॉडर्न हूँ मगर मेरी बहन आज भी जब घर से बहार निकलती है तो हिजाब ज़रूर पहनती है। 

आरिफा मुंबई में लड़कियों को पोल डांस भी सिखाती है। उन्हें कभी भी दोस्त की कमी महसूस नहीं हुई, क्योंकि उनकी बॉडी ही उनकी बेस्ट फ्रेंड है  । उनका पोल डांस का वीडियो यूट्यूब पर काफी वायरल हो रहा है और लोग बहुत पसंद भी कर रहे है।

 


Close Bitnami banner
Bitnami