गुरमीत जेल में भी चाहते थे हनीप्रीत का साथ, कोर्ट ने खारिज की अर्जी

हर वक्त साथ रहने वाली हनीप्रीत कौर को डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम जेल में भी अपने साथ रखना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने सीबीआई कोर्ट के विशेष जज जगदीप सिंह से इजाजत मांगी थी। इसके अलावा अपने करीबी सुरक्षाकर्मी विकास को भी जेल तक साथ रखने की अनुमति उन्होंने कोर्ट से मांगी थी। हालांकि कोर्ट ने इसे अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर का मामला बताते हुए जेल मेनुअल के प्रावधानों के तहत जेल प्रशासन से ही कोई मदद मांगने को कहा है।

Image result for Hot Photo of Honey preet MSG

Image result for Hot Photo of Honey preet

फिल्म एमएसजी-2 का निर्देशन करने के साथ ही उसमें एक्ट्रेस रहीं हनीप्रीत कौर को बाबा अपनी मुंह बोली बेटी कहते हैं। हालांकि बाबा की अपनी भी दो पुत्रियां हैं। मगर हनीप्रीत ही हर समय उनके साथ रहती हैं। बाबा को पंचकुला से रौहतक जेल भेजे जाने के दौरान भी हनीप्रीत हैलीकॉप्टर में बाबा की जिद पर उनके साथ ही गई थीं। इसे लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं कि आखिर उन्हें साथ ले जाने की इजाजत किसने दी। अधिकारी इससे पल्ला झाड़ रहे हैं। हनीप्रीत को जेल में साथ रखने के पीछे बाबा का तर्क है कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है और उनकी देखभाल सिर्फ वही कर सकती हैं। बाबा की अर्जी को सीबीआई कोर्ट ने खारिज कर दिया।

Image result for Hot Photo of Honey preet

जेल अधीक्षक से भी गुहार

सीबीआई के विशेष अभियोजन अधिकारी एचपीएस वर्मा का कहना था कि बाबा की इस डिमांड का हमने विरोध किया कि कोर्ट को न तो यह अधिकार है और न ही ऐसी अनुमति दिए जाने का प्रावधान है। इस पर अदालत ने बाबा से कहा कि उन्हें मेडिकल संबंधी जो भी मदद चाहिए उसकी दरख्वास्त वो जेल मेनुअल के तहत जेल प्रशासन से करें। कोर्ट ने बाबा का मेडिकल चेकअप भी अदालत परिसर में कराया था। उधर, बाबा ने रविवार को रौहतक जेल के अधीक्षक को भी हनीप्रीत को साथ रखने के लिए अर्जी

Source- Hindustan


Close Bitnami banner
Bitnami