मुंबई: बैंक फ्रॉडों से बचाने के लिए मुंबई पुलिस की मुहीम # मुहं पर ताला

मुंबई पुलिस ने ट्वीटर के ज़रिये पहले भी कई अभियान चलाएं है। जिसके ज़रिये पुलिस ने मुंबईकरों को अलग अलग अपराध से बचने के तरीके बातये हैं।उन्हें जानकारी दी है की मुश्किल घडी में पुलिस से कैसे मदद ली जा सकती है। इन सबके बाद अब मुंबई पुलिस ने जो कैम्पेन शुरू किया है। उसका मकसद है लोगों को आगाह करना, ये बताना की कैसे उनकी एक छोटी से गलती बड़ी भूल बन सकती है।

मुंबई पुलिस के मुताबिक़, हाल के दिनों में ऑनलाइन बैंकिंग फ्रॉड का मामला बढ़ता ही जा रहा है। इन ठगों ने तो खुद पुलिस तक को नहीं छोड़ा और उनके खातों से लाखों रुपये निकाल लिए। ये मामले इस क़दर बढ़ गए हैं की प्रति दिन देश में एक दिन में करीब 27 से 30 मामले दर्ज होते हैं। हर शिकायतकर्ता कि कॉमन कम्प्लेन होती है। वो ये बताता है की उन्हें एक फ़ोन आया था जिसमे कॉलर ने कहा था कि, बैंक मैनेजर बोल रहा हूं, एटीएम का पिन बताओ । और जैसे ही उन्होंने बताया उनका खाता खाली कर दिया गया । ये ऑनलाइन ठग इतने शातिर होते हैं की उन्हें ट्रेस तक कर पाना मुश्किल होता है।

ऐसे ठगों से बचना है तो लोगों को जागृत करना ज़रूरी है। उन्हें ये बताना ज़रूरी है की ये ठग कैसे लोगों को अपना शिकार बनाते हैं। मुँह पे ताला कैम्पेन का मकसद भी लोगों को जगाना है। ताकि वो ऐसे ठगों को पहचान सकें। और वो अपने बैंक से जुडी कोई भी जानकारी ऐसे लोगों को न दें जो उनसे फोन पर मांगते हैं। अगर कोई उन्हें फोन कर ये कहता है की उनका खाता लॉक हो गया है और उसे शुरू करने के लिए बैन पिन या आधार कार्ड देना होगा। तो समझ जाइये की वो ऑनलाइन ठग हैं। फ़ौरन ऐसे लोगों की जानकारी पुलिस को  दें।


Close Bitnami banner
Bitnami