0

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बना दिए गए हैं. हालांकि इसका आधिकारिक ऐलान 23 अक्टूबर को होने वाली बीसीसीआई वार्षिक आम सभा की बैठक में किया जाएगा. सौरव गांगुली ने इस पद के लिए गत सोमवार को नामांकन दाखिल किया था. चूंकि किसी और उम्मीदवार ने बीसीसीआई अध्यक्ष (BCCI President) पद के लिए नामांकन दाखिल नहीं किया है, इसलिए गांगुली का बोर्ड का नया अध्यक्ष बनना तय हो गया है. सौरव गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष बनने के बाद से जहां उनके प्रशंसकों के बीच खुशी की लहर दौड़ गई है, वहीं पूर्व और मौजूदा क्रिकेटरों ने भी उन्हें जमकर बधाई दी है. इस कड़ी में अब टीम इंडिया के दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह का भी नाम जुड़ गया है.

भारतीय क्रिकेट टीम के टर्बनेटर हरभजन सिंह ने ट्वीट कर सौरव गांगुली को बीसीसीआई अध्यक्ष बनने की बधाई दी. उन्होंने लिखा, ‘आप एक लीडर हैं जिन्होंने दूसरे लोगों को भी लीडर बनने के लिए प्रोत्साहित किया और रास्ता दिखाया. बीसीसीआई अध्यक्ष बनने की बहुत बधाई.’ सौरव गांगुली ने भी इसका जवाब देने में बिल्कुल देर नहीं की और तुरंत ही हरभजन से मदद मांग ली. गांगुली ने जवाबी ट्वीट में लिखा, ‘शुक्रिया भज्जी, मुझे तुम्हारी मदद की वैसे ही जरूरत है जैसे कि तुम एक छोर से गेंदबाजी करते हुए टीम इंडिया को जिताने में मदद किया करते थे.’

शुरुआत में इस तरह की खबरें आ रहीं थीं कि पूर्व क्रिकेटर बृजेश पटेल बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बन सकते हैं और उनके नाम पर करीब-करीब मुहर लग गई है, लेकिन बाद में हालात एकदम पलट गए और सौरव गांगुली का नाम इस पद के ल‌िए तय हो गया. माना जा रहा है कि गांगुली के पक्ष में बाजी करने में बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर का अहम रोल रहा है. नामांकन दाखिल करने के बाद गांगुली ने उम्मीद जताई थी कि अगले कुछ महीनों में भारतीय क्रिकेट में सब कुछ सामान्य हो जाएगा. उन्होंने उम्मीद जताई कि वह बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष जगमोहन डालमिया की तरह ही भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाई तक ले जाएंगे.

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और बाएं हाथ के बल्लेबाज सौरव गांगुली ने कहा, ‘आप जानते हैं कि जब जगमोहन डालमिया भारतीय क्रिकेट का संचालन करते थे तब मैं एक खिलाड़ी था. इसलिए मैंने उन्हें बहुत करीब से नहीं जाना कि वे बीसीसीआई और बंगाल क्रिकेट बोर्ड को कैसे चलाते हैं. मगर वह मेरे दिल के बेहद करीब थे, हैं और हमेशा रहेंगे. अगर मैं बीसीसीआई अध्यक्ष के तौर पर डालमिया की तुलना में 50 प्रतिशत भी हासिल कर लूं तो मैं समझूंगा कि मैंने अच्छा काम किया है.’

नई बाइक की नंबर प्लेट पर लिखा था- ‘आई त लिखाई’, पुलिस ने कहा- ‘जब लिखाई तब थाने से जाई’

Previous article

PMC बैंक घोटाला: हार्टअटैक से 2 की मौत के बाद 39 साल की डॉक्टर ने की आत्महत्या

Next article

You may also like

More in National

Comments

Comments are closed.