Maharashtra/GoaTop Stories

SHOCKING: महाराष्ट्र में चुपके चुपके कोई बाँट रहा है मौत, अब तक 14 मरे 38 अस्पताल में भर्ती

0

Yavatmal: महाराष्ट्र में किसानों की ख़ुदकुशी का मामला अभी ख़त्म भी नहीं हुआ है की एक और मामला सामने आने लगा है. ये खबर भी सरकार के लिए बेचैनी बढ़ने वाला है. यवतमाल ज़िले के असोला गांव में पानी पीने से लोगों की मौत हो रही है. अकेले इस ज़िले में एक साल में जहरीले पानी के कारण कम से कम 14 लोगों की मौत के मामले सामने आए हैं. लेकिन सरकार की तत्परता से उनपर सवाल भी खड़े हो रहे हैं. पिछले एक साल से लोग पानी पीकर मौत के आगोश में जा रहे थे और सरकार को इसकी खबर तक नहीं थी.

यवतमाल ज़िले के असोला गांव में हालत ऐसे हैं कि, मौत के डर से लोग दो घूंट पानी तक पीने को तरस रहे हैं. ग्रामीणों कि मानें तो, सारे बोरवेल ज़हरीले हो गए हैं. बोरवेल में जहरीले पदार्थ मौजूद होने के कारण लोगों की मौतें हो रही हैं. अब तक 14 मौतें तो रिपोर्ट कि गयीं हैं मगर ये संख्या कहीं ज़्यादा हो सकती है. 38 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हैं.

Image result for Yavatmal Asola village

इस ज़हरीले पानी पीने कि वजह से अब तक कई लोगों को किडनी कि गंभीर बीमारी हो गयी है. ज़िले में किडनी संबंधित बिमारियों के 110 से ज्यादा मामले सामने आएं हैं. लेकिन सरकार कि तरफ से अब तक कुछ भी नहीं किया जा सका है.

लोग बताते हैं कि, यवतमाल के असोला गांव में बोरवेल ही पानी का एक मात्र स्रोत है, जिस कारण यहां के लोगों के पास बोरवेल का पानी पीने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है. मगर बोरवेल का पानी पूरी तरह से ज़हरीला हो गया है, पानी में नाइट्रेट की काफी मात्रा पाई गई है. इस पानी को पीने के कारण ही स्थानीय लोगों की किडनी को नुकसान पहुंच रहा है.

फूलपुर और गोरखपुर में BJP को बड़ा झटका , मुंबई में जश्न

Previous article

BIG NEWS: आदित्य नारायण को बड़ा झटका पिता ‘उदित नारायण’ अस्पताल में भर्ती

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami