डॉन दाऊद इब्राहिम के सबसे बड़े राज़दार छोटा शकील की कराची में हत्या!

मोस्ट वांटेड डॉन दाऊद इब्राहिम की डी कंपनी के बारे में एक ऐसी खबर आई है जिससे अंडरवर्ल्ड में खलबली मच गई है। सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि दाऊद इब्राहिम के सबसे बड़े राजदार छोटा शकील की मौत हो गई है। पाकिस्तान के कराची में उसकी हत्या कर दी गई है। पिछले तीस सालों से छोटा शकील दाऊद का दाहिना हाथ रहा। वो दाऊद का सबसे भरोसेमंद साथी था। डी कंपनी में छोटा शकील की हैसियत ये थी कि उसके मुंह से निकाली हर बाते दाऊद का आदेश माना जाता था। अब ये बताया जा रहा है कि डी कंपनी में फूट की वजह से उसे मौत के हवाले कर दिया गया।

 

 

वायरल ख़बर के मुताबिक छोटा शकील काफ़ी समय से दाऊद के छोटे भाई अनीस इब्राहिम से परेशान था क्योंकि गिरोह के कामकाज में अनीस की दख़लंदाज़ी लगातार बढ़ रही थी। इसी बात पर दाऊद इब्राहिम और छोटा शकील के बीच में कहासुनी भी हुई जिसके बाद छोटा शकील डी कंपनी से अलग हो गया और उसे इसकी कीमत चुकानी पड़ी। सोशल मीडिया में बताया जा रहा है कि छोटा शकील की हत्या किसी बाहरी लोगों ने नहीं की बल्कि वो डी कंपनी के अंदर मची वर्चश्व की लड़ाई का शिकार हुआ है।

 

वायरल खबर में ये भी दावा किया जा रहा है कि दाऊद के साथ झगड़े के बाद छोटा शकील ने अपने खास लोगों के साथ किसी पूर्वी एशियाई देश में मीटिंग की। छोटा शकील दाऊद इब्राहिम को छोड़ अपना एक अलग गैंग बनाने की तैयारी कर रहा था। जब इस बात की खबर दाऊद को लगी तो वो आगबबूला हो गया। छोटा शकील दाऊद के सारे राज जानता है इसलिए वो दाउद के लिए बड़ा खतरा बन सकता था। वायरल खबर के मुताबिक डी कंपनी को बचाने के लिए दाऊद ने छोटा शकील की हत्या करवा दी। वायरल खबर में ये भी दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तानी की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलीजेंस यानि ISI ने दाऊद और छोटा शकील के बीच सुलह कराने की कोशिश की लेकिन विफल रही और जब सारी कोशिशें फेल हो गई तब छोटा शकील की हत्या करा दी गई।

ये भी बताया जाता है कि छोटा शकील कराची के क्लिफ्टन इलाके में दाऊद के साथ ही रहता था। दोनों के बीच विश्वास का रिश्ता था। फिर अचानक से ये दूरियां कैसे आ गई? अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के गिरोह में फूट और छोटा शकील की हत्या को लेकर पाकिस्तान की खुफिया एजेसी आईएसआई परेशान है क्योंकि दाऊद की गैंग के कमजोर होने से आईएसआई की भारत विरोधी गतिविधियों को करारा झटका लग सकता है। मोस्ट वांटेड अंडरवर्ल्ड डान दाऊद इब्राहिम का रिश्ता पाकिस्तान में मौजूद आंतकवादी संगठनों से है। वो आईएसआई के साथ मिल कर भारत में हिंसा फैलाने की साजिश को अंजाम देता रहा है। दाऊद इब्राहिम मुंबई सिरियल ब्लास्ट का गुनाहगार है।

इंडिया टीवी ने जब छोटा शकील की मौत की खबर की पड़ताल शुरु की तो पता चला कि वायरल खबर का आधार एक न्यूज रिपोर्ट है जिसमें ये बताया गया कि  अंडर वर्ल्ड डॉन दावूद इब्राहिम का दाहिना हाथ छोटा शकील उससे अलग हो गया है। कई अखबारों ने सूत्रों के आधार पर ये लिखा कि दाऊद के साथ झगड़े के बाद छोटा शकील ने अपने खास लोगों के साथ किसी पूर्वी एशियाई देश में मीटिंग की है। मतलब ये छोटा शकील दाऊद इब्राहिम को छोड़ अपना एक अलग गैंग बनाने की तैयारी कर रहा था। अखबारों में ये भी बताया गया है कि दाऊद गैंग में फूट की खबर से पाकिस्तानी की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलीजेंस यानि ISI परेशान है। वो अब दाऊद और छोटा शकील के बीच सुलह कराने की कोशिश कर रही है क्‍योंकि ISI को लगता है कि अगर दोनों अलग हो गए तो भारत के खिलाफ उसकी गतिविधियां कमजोर पड़ सकती हैं।

Source India TV


Close Bitnami banner
Bitnami