मराठा आरक्षण के नाम पर एक और ख़ुदकुशी, फेसबुक पोस्ट लिखकर ट्रेन के सामने लगा दी छलांग

Pramod Palit Jumped in front of train

मराठा आरक्षण नाम पर प्रमोद हीरे पाटिल नाम के युवक ने ट्रेन के सामने छलांग लगाकर ख़ुदकुशी कर ली है. ख़ुदकुशी से पहले प्रमोद ने एक फेसबुक पोस्ट भी लिखा है.

“चलो एक मराठा जा रहा है, लेकिन कोई नहीं, ये मैं अपने भाइयों के मराठा आरक्षण की लड़ाई के लिए कर रहा हूँ. जय जिजाऊ”.

जानकारी के मुताबिक प्रमोद मूलतः लातूर का रहने वाला है. लेकिन पिता की नौकरी औरंगाबाद में थी जिस वजह से वो वहीँ रह रहा था. पत्नी बीड में ग्राम सेवक है. प्रमोद के दोस्तों ने बताया है की पिछले चार दिनों से वो लगातार मराठी क्रांति मोर्चा में भाग ले रहा था. वो आंदोलन का हिस्सा रहा है. उसे ये लगने लगा था की उसे आरक्षण की वजह से नौकरी नहीं मिल रही थी. बस इसी बात को लेकर वो अक्सर परेशान रहने लगा था.

लेकिन कल शाम अचानक उसे अपने दोस्तों से ये कहा की आज कुछ बड़ा होने वाला है. सभी दोस्त उसका फेसबुक पोस्ट देखते रहे. इसके बाद वो रेलवे ट्रैक पर गया, जहाँ उसने पहले एक सेल्फी निकाली और अपनी ख़ुदकुशी की वजह लिखकर ट्रेन के सामने कूद गया. उसके परिवार को इसकी जानकारी तब लगी जब देर रात तक वो घर नहीं लौटा. माँ ने कई बार उसके मोबाइल पर कॉल भी लगाया लेकिन उसका कोई अता पता नहीं लग पाया.

जब दोस्तों ने उसका फेसबुक अकॉउंट देखा तो बात सामने आई. मराठा आंदोलन को लेकर महाराष्ट्र में ख़ुदकुशी का ये तीसरा मामला है. इससे पहले औरंगाबाद में ही एक युवक ने नदी में छलांग लगा कर ख़ुदकुशी कर ली थी.


Close Bitnami banner
Bitnami