Maharashtra/GoaPoliticsTop Stories

सामने आया पुलिस अधिकारी अश्विनी बिद्रे के क़त्ल का बीजेपी कनेक्शन

0

जैसे जैसे कलंबोली पुलिस हेडक्वाटर से मिसिंग हुई महिला पुलिस अधिकारी अश्विनी बिद्रे के गुमशुदगी के मामले को सुलझाने की कोशिश कर रही ये उतना ही उलझता जा रहा है। अब पुलिस की तफ्तीश में अश्विनी बिद्रे मामले में बीजेपी कनेक्शन सामने आया है। नवी मुंबई पुलिस ने इस मामले में जलगांव के एक बीजेपी नेता को गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक़,इस बीजेपी ने नेता पर अश्विनी के अपहरण और हत्या में शामिल होने का आरोप है। इससे पहले पुलिस ने अश्विनी के हत्या और अपहरण के संदेह में ठाणे ग्रामीण के पुलिस निरीक्षक अभय कुरुंदकर को गिरफ्तार किया था। उससे हुई पूछताछ के बाद ही पुलिस ने रविवार को जलगाँव से एक युवक को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवक भाजपा के पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से का भतीजा बताया जा रहा है।

सूत्रों की मानें तो, नेता जी का भतीजा ने सिर्फ इस पूरे मामले में सीधे तौर पर शामिल है। बल्कि अभय कुरुंदकर को बचाने में भी उसने अहम भूमिका निभाई है। उसी के इशारे पर अब तक कई बार नवी मुंबई पुलिस अभय कुरुंदकर से बिना पूछताछ के वापस लौटी थी।

अप्रैल 2016 में अश्विनी कलंबोली से अपने घर के लिए निकली थी और फिर वो लापता हो गयी थी। इस मामले में एक वर्ष बाद शुक्रवार को नवी मुंबई पुलिस ने ठाणे ग्रामीण विशेष शाखा के पुलिस निरीक्षक अभय कुरुंदकर को गिरफ्तार किया था। इसके बाद पुलिस ने जांच कर जलगाँव से राजेश पाटिल उर्फ राजू को गिरफ्तार किया है। घटना वाले दिन तीनो का लोकेशन मीरा रोड़ मिला है। इस दौरान अभय और राजेश के बीच बातचीत हुआ था। इसके बाद ही वह मुंबई के तरफ आया। इसके साथ ही इस हत्या मामले में संदेह होने पर पुलिस ने राजू को हिरासत में लेकर पूछ ताछ करने के बाद रविवार देर रात को गिरफ्तार कर लिया। राजू भाजपा के पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे का भतीजा बताया जा रहा है।

 

पुणे में भीषण सड़क हादसे में खत्म हुआ मुंबई का एक पूरा परिवार

Previous article

नरगिस बनेंगी अफगानी ब्यूटी, जिसे तोरबाज़ में संजय से प्यार हो जाता है

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami