चीयरलीडर ने सुनाई यौन उत्पीड़न की दास्तां, बोलीं- नौकरी का हिस्‍सा है ये

टेलीविजन पर नजर आने वाली चीयरलीडर्स हमेशा ही खुशमिजाज और उत्साही नजर आती हैं।अक्सर टीवी पर नजर आने वाली इन चीयरलीडर्स की जिंदगी पर बातचीत बहुत कम की जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अपनी-अपनी टीमों की जीत को जश्न में बदलने वाली इन युवतियों की असली जिंदगी में है स्याह अंधेरा। जी हां, एक ऐसा अंधेरा जो अब इनके इस प्रोफेशन का हिस्सा बन चुका है। एक जानी-मानी टीम की चीयरलीडर्स ने खुद इस बात का खुलासा किया है।

काउब्वॉय चीयरलीडर्स की एक सदस्य ने खुलासा किया है कि यौन उत्पीड़न उनकी नौकरी का हिस्सा बन गया है। इस चीयरलीडर्स ने बतलाया कि कई बार उन्हें बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है जब फैन्स अजीबो-गरीब कॉमेन्ट्स करते हैं। इस चीयरलीडर्स ने बतलाया कि कई बार उनसे कहा जाता है कि यह अच्छी नहीं है, क्या आप यहां आ सकती हैं, दर्शकों का ध्यान आकर्षित करने के लिए शरीर के हाव-भाव में अंतर लाइए। लेकिन अक्सर फैन्स द्वारा कही जाने वाली इस तरह की बातों का हम विरोध नहीं कर सकते क्योंकि हमें पता है कि फैन्स हैं तब ही हम यहां हैं। चीयरलीडर्स का कहना है कि यदि हम उनका विरोध करेंगे तो टीम प्रबंधन हमें नौकरी से निकाल देगा।

एक और पूर्व चीयरलीडर ली हॉल्ट ने भी बड़ी बेबाकी से अपनी बात रखते हुए कहा कि जब आप इस तरह के कपड़ों में होते हैं तो कुछ भी हो सकता है। हालांकि टीम के सदस्य तो इसपर कुछ नहीं कहते लेकिन किसी बीयर पीये हुए शख्स के पास जब आप जाते हैं तो वहां कुछ भी हो सकता है। टीम के सदस्य जानते हैं कि उनका उत्पीड़न होता है। लेकिन वो लोग इसे रोकने के लिए ज्यादा कुछ नहीं करते।

हालांकि एक बात यह भी सच है कि चीयललीडर्स ही नहीं बल्कि रेस्टुरेंट में काम करने वाली लड़कियां, मॉडल्स और एयर होस्टेस भी कई बार इस तरह यौन उत्पीड़न का शिकार होती हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक रेस्टुरेंट में काम करने वाली हर तीन में से दो महिला कर्मचारी ग्राहकों, मालिकों या फिर अपने सह-कर्मचारी द्वारा यौन शोषण का शिकार होती हैं। इनमे से कई तो अपने काम करने के स्थान पर खुद को असुरक्षित भी मसहूस करती हैं।


Close Bitnami banner
Bitnami