मुंबई में शिवसेना – बीजेपी कार्यकर्ताओं में जमकर चले लात घुसे, नाट्यगृह के उद्घाटन को लेकर हुई मारा मारी

अब तक बयानबाज़ी में व्यस्त रहने वाले सरकार के दो सहयोगी बीजेपी और शिवसेना अब खिलकर ज़ोर आज़माइश में भी जुट गए हैं. आज दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच जमकर नारेबाजी और हांथपाइ हुई. मामला मारपीट तक जा पहुंचा, लेकिन इससे पहले की बात और बिगड़ती मुंबई पुलिस फ़ौरन हरकत में आई और दोनों को अलग किया गया.

इस पूरे विवाद की शुरुआत मुंबई के गोरेगाव में हुए एक नाट्यगृह और सब्ज़ी मंडी के उद्धघाटन को लेकर हुआ. गोरैगाओं इलाके में आज शिवसेना के युवा अध्यक्ष आदित्य ठाकरे को प्रभाकर पणशीकर नाट्यगृह और टोपी वाला मंडी के उद्घाटन के लिए बुलाया गया था. जहाँ आदित्य के इलावा शिवसेना के कई नेता अपने कार्यकर्ताओं के साथ मौजूद थे. लेकिन तभी वहां स्थानीय विधायक और मंत्री विद्या ठाकुर भी अपने दल बल के साथ पहुँच गई.

लेकिन शिवसेना कार्यकर्ता उन्हें अंदर जाने ही नहीं दे रहे थे. बस इसी बात को लेकर दोनों पक्ष भीड़ गए और नौबत मारपीट तक जा पहुंची. किसी तरह वहां मुजूद पुलिस ने स्तिथि पर काबू पाया. मंत्री विद्या ठाकुर का आरोप है की शिवसेना सरकार के कामों पर जबरन अपना नाम लिखवा कर लोगों को गुमराह कर रही है. इसीलिए वो उन्हें रोकने के लिएआयीं थी लेकिन शिवसैनिकों ने अपने नेताओं के सामने उनके साथ बदसलूखी की.


Close Bitnami banner
Bitnami