दिग्विजय सिंह ने किया दावा – कांग्रेस आई तो आर्टिकल 370 हटाने पर करेंगे पुनर्विचार, लीक हुई क्लब हाउस चैट ; BJP हुई हमलवार

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह एक बार फिर सुर्खियों में हैं. वजह है आर्टिकल 370. दरअसल बीजेपी आई टी सेल के हेड अमित मालवीय ने दिग्विजय सिंह का एक ऑडियो जारी किया है. जिसमें वे कह रहे हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो 370 हटाने के फैसले पर करेंगे पुनर्विचार किया जाएगा.

बताया जा रहा है कि ये ऑडियो क्लब हाउस चैट का है. अमित मालवीय के मुताबिक इस चैट में पाकिस्तानी पत्रकार भी मौजूद थे. बीजेपी नेता ने क्लब हाउस चैट का एक हिस्सा ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा- ‘क्लब हाउस चैट में, राहुल गांधी के शीर्ष सहयोगी दिग्विजय सिंह एक पाकिस्तानी पत्रकार से कहते हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो वे अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के फैसले पर पुनर्विचार करेंगे. वास्तव में? यही तो पाकिस्तान चाहता है…’

वायरल हो रहे ऑडियो में दिग्विजय सिंह कह रहे हैं कि जब उन्होंने कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाया तो वहां लोकतंत्र नहीं था. वहां इंसानियत भी नहीं थी, क्योंकि सभी को जेल में बंद कर दिया गया था. कश्मीरियत वहां के सेक्युलरिज्म का हिस्सा है, क्योंकि मुस्लिम बहुल राज्य का राजा हिंदू था और दोनों साथ मिलकर काम किया करते थे.यहां तक कि कश्मीर में कश्मीरी पंडितों को सरकारी नौकरी में आरक्षण दिया गया था. ऐसे में आर्टिकल 370 को हटाने का फैसला बेहद दुखद था और कांग्रेस जब सत्ता में आएगी तो 370 हटाने के फैसले पर दोबारा विचार करेगी.”

क्लब हाउस चैट लीक होने के से बीजेपी नेता कांग्रेस पार्टी और दिग्विजय सिंह पर हमलवार है. केंद्रीय मंत्रि गिरिराज सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा – ‘कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान है. दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी का संदेश पाकिस्तान तक पहुंचाया है. कांग्रेस कश्मीर को हथियाने में पाकिस्तान की मदद करेगी.’

तो वहीं बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्विटर करते हुए कहा कि – ‘दिग्विजय सिंह ने आर्टिकल 370 बहाल करने पर पुनर्विचार की बात कही. उन्होंने हिन्दू कट्टरपंथी का जिक्र किया. कांग्रेस राष्ट्रविरोधियों का क्लब हाउस है.’

ग़ौरतलब है कि केंद्र सरकार ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर को खास दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 को हटा दिया था. साथ ही जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश में भी बांट दिया था.


Close Bitnami banner
Bitnami