EXCLUSIVE VIDEO: एयरहोस्टेस की हिम्मत की जांबाज़ी से बची मासूम की जान एयर होस्टेस ने छलांग लगाकर पकड़ा

जेट एयरवेज की एयर होस्टेस ने अगर हिम्मत नहीं दिखाई होती तो शायद एक मासूम की जान नहीं बच पाती. मितांशी ने जो हिम्मत दिखाई उसके बाद पूरा एयरपोर्ट खड़ा होकर तालियां बजाने को मजबूर हो गया. एक बच्चा अपनी मां की गोद से छूटकर निचे गिरने वाला ही था की एयरहोस्टेस ने किसी क्रिकेटर की तरह छलांग लगा दी और बच्चे को बचा लिया. जिस जगह बच्चा अपनी माँ के साथ वहां नीचे एक रोड लगा था और अगर दस महीने का बच्चा फर्श पर गिर जाता तो शायद बचने की संभावना न होती. लेकिन इससे पहले की कोई अनहोनी होती बहादुर एयर होस्टेस ने बच्चे को जमीन पर गिरने नहीं दिया.

ये घटना मुंबई एयरपोर्ट पर पिछले महीने घाटी थी लेकिन इसके चर्चे अब हो रहे हैं, तब बच्ची की माँ ने जेट एयरवेज और अपनसे सोशल साइट पर एक पत्र लिखकर उस एयर होस्टेस की जमकर सराहना की. जिस पर एयर लाइंस ने एयर होस्टेस की पहचान उजागर करते हुए कहा है कि-गर्व है कि एयर होस्टेस हमारे साथ सेवा में है.

जो जानकारी सामने आयी है उसके मुताबिक, एक महिला अपने दस महीने के बच्चे के साथ मुंबई से अहमदाबाद की उड़ान पर थी. महिला ने कतार में खड़े होकर चेक-इन कराया और फिर औपचारिकता पूरी होने के बाद सुरक्षा जांच के लिए पहुंची तभी अचानक दुर्घटनावश उसकी गोंद से बच्चा छूट गया. तभी एयरहोस्टेस मितांशी वैद्य की नजर पड़ी और उन्होंने छलांग लगा दी और बच्चे को फर्श पर गिरने से बचा लिया. बच्चे को बचने के दौरान खुद एयर होस्टेस घायल हो गई, उसकी नाक पर चोट के निशान पड़ गए. बच्चे की मां ने जेट एयरवेज को पत्र लिखकर धन्यवाद कहते हुए एयरहोस्टेस को देवदूत करार दिया है.


Close Bitnami banner
Bitnami