Lede India impact : चेकिंग के नाम पर छात्राओं के कपड़े उतरवाने वालों के खिलाफ मामला दर्ज

पुणे के एमआईटी एग्जाम सेंटर में गर्ल स्टूडेंट को एग्जाम में नक़ल करने की शक पर उसे निर्वस्त्र कर उसकी तलाशी लेने के मामले में पुणे पुलिस ने एमईटी कॉलेज की महिला गार्ड के ऊपर मामला दर्ज कर लिया है। शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच के भी आदेश दिए है। शिक्षा मंत्री ने भी माना जो कुछ भी हुआ बेहद शर्मनाक है। घटना को निंदनीय बताते हुए शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि इस तरह किसी स्टूडेंट की तलाशी लेना गलत है और न ही इस तरह की तलाशी लेने की इजाजत बोर्ड किसी को देता है। हम जल्द ही एग्जाम सेंटर भी बदलने वाले है।

http://ledeindia.com/hi/index.php/2018/03/03/shocking-news-gilr-student-molested-in-school-exam-centre/

 

गौरतलब है कि, पुणे के एक परीक्षा केंद्र पर 21 फरवरी को कई लड़कियों को निर्वस्त्र कर उनकी तलाशी ली गई थी। जांच के नाम पर सेंटर पर महिला शिक्षकों ने लड़कियों के अंडरगारमेंटस तक उतरवाकर उनकी जांच की थी। जिसके बाद 28 फरवरी को कई छात्राओं ने इसके खिलाफ आवाज़ उठाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी।

उसी शिकायत के पुलिस ने दो महिला गार्ड्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। पुलिस इस मामले में लड़कियों का बयान दर्ज कर पूरे मामले की जांच कर रही है। तो वहीँ स्कूल प्रशासन ने छात्राओं के आरोपों का खंडन किया है। उनके मुताबिक़ लड़कियों ने मामले को बढ़ा चढ़ा के पेश किया है। सेंटर पर सिर्फ सामान्य तरीके से चेकिंग की गई थी।


Close Bitnami banner
Bitnami