सत्यपाल सिंह के बाद चुनाव लड़ने को तैयार है, मुंबई का पुलिस कमिश्नर

केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह के पदचिन्ह पर चलते हुए उनके ही एक जूनियर मुंबई पुलिस कमिश्नर ने भी चुनाव लड़ने का फैसला किया है. मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर और महाराष्ट्र के डीजी अरूप पटनायक भी अब राजनीती करेंगे.अरूप पटनायक ने सत्यपाल सिंह से अलग पार्टी BJD को चुना है और जल्द ही वो ओडिशा विधानसभा चुनाव भी लड़ेंगे. बुधवार की शाम 5 बजे के करीब अरुप ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से मिले और पार्टी की आधिकारिक सदस्यता भी ले ली.इसके साथ ही आधिकारिक तौर पर उन्होंने पार्टी जॉइन कर ली है.

अरूप पटनायक 1979 बैच के आईपीएस ऑफिसर है. और वो महाराष्ट्र में कई महत्वपूर्ण पदों पर रहने के साथ साथ अरुप पटनायक मुंबई के पुलिस कमिश्नर भी रहे हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के आवास नवीन निवास पर पार्टी जॉइन करने की औपचारिकताओं को पूरा किया.

अरूप पटनायक की पहचान महाराष्ट्र पुलिस में धाकड़ अफसरों के तौर पर की जाती रही है. उन्होंने महाराष्ट्र और मुंबई में हुए कई दंगो के साथ अंडरवर्ल्ड पर नकेल कसने में अहम् भूमिका निभाई थी. 63 साल के अरुप पटनायक मुंबई के 36वें पुलिस कमिश्नर रहे हैं.30 सितंबर 2015 को पटनायक 36 साल की पुलिस सेवा के बाद महाराष्ट्र में डीजी के पद से रिटायर हुए.

इस दौरान 2003 में विशिष्ट सेवा के लिए पटनायक को प्रेसिडेंट पुलिस मेडल से भी सम्मानित किया गया. इसके अलावा1994 में उन्हें प्रतिष्ठित इंडियन पुलिस मेडल से भी नवाजा गया था. अरुप पटनायक मूलतः ओडिशा के होने के बाद भी महाराष्ट्र को अपनी कर्मभूमि बनाया था और वो अकेले ऐसे उड़िया अफसर हैं, जिन्होंने मुंबई के पुलिस कमिश्नर की जिम्मेदारी संभाली है.


Close Bitnami banner
Bitnami