हिंसक हुई मराठा आरक्षण की आग, पुणे में 25 सरकारी बसों को किया आग के हवाले सोलापुर में लाठीचार्ज

मराठा आरक्षण की मांग को लेकर आज सोलापुर बंद का आह्वान किया गया था. दिन भर तो सब ठीक रहा लेकिन शाम होते होते बंद ने महाराष्ट्र के कई ज़िलों में हिंसक रूप ले लिया. सोलापुर और पुणे में हिंसक प्रदर्शन किये गए और पुणे के चाकन इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई. चाकन में प्रदर्शनकार्यों ने करीब सरकारी बसों को आग के हवाले कर दिया.बंद के दौरान सोलापुर में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प हुई है. पुलिस ने भीड़ को तितरबितर करने के लिए लाठी चार्ज किया.

फिलहाल आंदोलन के हिंसक होते ही पुणे से सोलापुर जाने वाली सभी स्टेट ट्रांसपोर्ट की बसों को रोक दिया गया है. उधर, कांग्रेस के 33 विधायकों ने इस्तीफे की पेशकश कर दी है. कांग्रेस विधायकों ने पत्र लिखकर राज्यपाल विद्यासागर राव से मामले में हस्तक्षेप करने की अपील की है.

आंदोलन का सबसे ज़्यदा असर पुणे के चाकन में दिख रहा है. जहाँ आंदोलनकारियों ने पुणे में 25 बसे जला दी हैं. पुणे में मराठा आरक्षण को लेकर हुए हिंसक प्रदर्शन में प्रदर्शकारियों ने पुणे-नासिक हाइवे पर स्थित चाकन इंडस्ट्रियल इलाके में राज्य परिवहन विभाग और पुणे नगर पालिका की 25 बसों को आग के हवाले कर दिया गया. माहौल बिगड़ता देख पूरे शहर में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती कर 144 लगा दिया गया है.

 


Close Bitnami banner
Bitnami