उत्तर भारतीयों ने बढ़ाया महाराष्ट्र का गौरव : मुख़्यमंत्री

मुंबई और उसके आस पास के शहरों में जहाँ राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना गरीब उत्तर भारतीय फेरीवालों के खिलाफ मुहीम छेड़कर रखी है। तो वही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस उत्तरभारतीयों के समर्थन में उतर आये है। मुंबई के घाटकोपर में शिक्षण महर्षी आई डी सिंह के नाम पर बनाये गए चौक का उद्घाटन करते हुए मुख़्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा जिस तरह मराठियों ने महाराष्ट्र को संवारा है, उसी तरह महाराष्ट्र में रहने वाले उत्तर भारतीयों ने महाराष्ट्र का गौरव बढ़ाया है। महाराष्ट्र में रहने वाले उत्तर भारतीय महाराष्ट्र के गौरव है। जो भाषा के नाम पर विवाद पैदा कर रहे है वो गलत है। मुंबई में चार चार पीडियों से रहने वाले लोग बाहरी कैसे हो सकते है, चाहे वो कौन सी भी भाषा बोलते हो लेकिन वो मराठी है।

घाटकोपर पश्चिम स्थित हिंदी हाई स्कूल परिसर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री फडणवीस ने आई डी सिंह पर लिखी पुस्तक का विमोचन भी किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आई डी सिंह को राष्ट्रपति पुरस्कार के अलावा कई सारे पुरस्कार मिले हैं। उन्होंने शिक्षा व्यवस्था में बहुत बड़ा योगदान दिया है। उनके योगदान को भुला नहीं जा सकता है।

पूर्व मंत्री और चांदिवली से कांग्रेस पार्टी के विधायक नसीम खान ने कहा कि कांग्रेस की पिछली सरकार ने मुंबई विश्वविद्यालय में हिंदी भाषा भवन का भूमि पूजन किया था। लेकिन हिंदी भाषा भवन का काम अभी तक पूरा नहीं किया गया है। जल्द ही खान की मांग को पूरा करने का आश्वासन देते हुए मुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा कि मुंबई विश्वविद्यालय परिसर में हिंदी भाषा बनेगा।

इस मौके पर हिंदी भाषा प्रचार समिति के सचिव डॉ. राजेंद्र सिंह, डॉ शैलेंद्र सिंह ने गृह निर्माण मंत्री प्रकाश मेहता, महिला बाल कल्याण राज्य मंत्री विद्या ठाकुर, विधायक राम कदम, पूर्व मंत्री कृपाशंकर सिंह, पूर्व विधायक राजहंस सिंह, आर यू सिंह, नगरसेवक बिंदू त्रिवेदी, पूर्व नगरसेवक हारून खान समेत सभी अतिथियों का सम्मान किया।


Close Bitnami banner
Bitnami