भीमा कोरेगाव हिंसा के मुख्य आरोपी मिलिंद एकबोटे को पुणे ग्रामीण पुलिस ने किया गिरफ्तार

आखिरकार काफी लुका छिप्पी के बाद पुणे पुलिस ने भीमा कोरेगांव हिंसा मामले के आरोपी और हिंदू एकता अघाड़ी के अध्यक्ष मिलिंद एकबोटे को गिरफ्तार कर लिया है। एकबोटे ने शुक्रवार को पुणे के शिक्रापुर पुलिस स्टेशन में जाकर सरेंडर कर दिया। हिंदू एकता अघाड़ी के अध्यक्ष मिलिंद एकबोटे पर कोरेगांव हिंसा कि साज़िश रचने का आरोप है। पुणे पुलिस ने एकबोटे के खिलाफ एट्रोसिटी एक्ट,जानलेवा हमला करने,दंगा भड़काने और धारा 144 उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया था है। लेकिन मामला दर्ज होते ही मिलिंद एकबोटे को अदालत से राहत मिल गई थी। बाद में अदालत ने उनके ऊपर से गिरफ्तारी न करने का जो प्रोटेक्शन दिया था, वो हटा लिया था। मिलिंद एकबोटे पर भारिप बहुजन महासंघ के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर ने आरोप लगाया था कि, एकबोटे ने लोगों को हिंसा के लिए उकसाया था।

इसके पहले भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में अपने खिलाफ केस दर्ज होने के बाद से ही बचने की कोशिश में जुटे थे। मिलिंद एकबोटे ने 22 जनवरी को पुणे के जिला एवं सत्र न्यायालय में अग्रिम जमानत की अर्जी दायर की थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। बाद में उन्होंने बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया लेकिन वहां से भी राहत नहीं मिली। इसके बाद पुणे ग्रामीण पुलिस ने उनके खिलाफ वारंट जारी कर दिया था।


Close Bitnami banner
Bitnami