PoliticsTop Stories

नहीं रहे कांग्रेस के कद्दावर नेता पतंगराव कदम, नम आखों से दी जा रही अंतिम विदाई

0

महाराष्ट्र में कांग्रेस के कद्दावर नेता और महाराष्ट्र के पूर्व शिक्षा मंत्री पतंगराव कदम का शुक्रवार रात मुंबई के लीलावती अस्पताल में निधन हो गया है। कदम 74 साल के थे। पिछले कुछ दिनों से पतंगराव कदम किडनी की गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे। कुछ दिनों पहले उन्हें मुंबई के लीलावती अस्पताल में इलाज के भर्ती कराया गया था। जहाँ पर उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई थी। शुक्रवार रात 10 बजे के करीब कदम ने लीलावती अस्प्ताल में अंतिम साँसे ली। कल अपने नेता से मिलने के लिए कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष सोनिया गाँधी लीलावती अस्पताल गयी थी।

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पतंगराव कदम का निधन, नम आंखों से दी जा रही है विदाई

आज सुबह कदम का पार्थिव शरीर मुंबई से पुणे ले जाया गया। वहां पर उनके पार्थिव शरीर को भारती विद्यापीठ के कैंपस में रखा गया है। जहाँ पर उनके समर्थक और चाहने वाले लोग उनका अंतिम दर्शन कर रहे है। आज सुबह भारत की पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा ताई पाटिल और कांग्रेस पार्टी के नेता सुरेश कलमाड़ी पतंगराव को श्रद्धांजलि देने लिए कैंपस में पहुंचे आज ही उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। अब से कुछ ही देर में उनका पार्थिव शरीर उनके गाओं के लिए निकलेगा जहाँ पर उन्हें पंचतत्व में विलीन किया जाएगा।

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पतंगराव कदम का निधन, नम आंखों से दी जा रही है विदाई

राहुल गाँधी ने प्रकट किया शोक

पतंगराव के निधन पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यह कहते हुए शोक प्रकट किया कि यह पार्टी के लिए अपूरणीय क्षति है। पश्चिमी महाराष्ट्र के सांगली जिले में निम्न मध्य वर्गीय परिवार में आठ जनवरी, 1944 को पैदा हुए कदम ने स्नातोकोत्तर और एलएलबी किया था। कुछ समय तक अंशकालिक शिक्षक का काम करने के बाद उन्होंने राजनीति से जुड़ने का फैसला किया. वह चार बार विधानसभा के लिए चुने गये।

 

चार बार एमएलए रहे कदम

वह चार बार विधानसभा के लिए चुने गये। उन्होंने कांग्रेस- राकांपा सरकार में सहकारिता एवं वन जैसे अहम विभागों का कामकाज संभाला। वह महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम के अध्यक्ष भी रहे। वह कुछ समय के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भी रहे थे।

भारती विद्यापीठ की स्थापना की

विश्वजीत कदम ने पुणे में भारती विद्यापीठ डीम्ड विश्वविद्यालय की भी स्थापना की।

Rahul Pandey

ज़िन्दगी के असली नायकों की कहानी साझा करेंगे सलमान खान

Previous article

एक्टर नवाज़ुद्दीन को नहीं है पत्नी पर भरोसा ? पत्नी की जासूसी करा रहे थे नवाज़

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami