Maharashtra/GoaTop Stories

SHOCKING: इस अस्पताल के ICU में डॉक्टर ने नहीं तांत्रिक ने किया झाड़फूंक, मरीज़ की मौत

0

पुणे के प्रसिद्ध अस्पताल में डॉक्टरों को लगता है खुद पर भरोसा नहीं रहा है। शायद यही वजह है की अस्पताल के आईसीयू में तांत्रिक आकर झक फूंक करते हैं और डॉक्टर तमाशबीन रहते हैं। जो बात सबसे ज़्यादा चौंकाती है वो ये तांत्रिक को लाने वाला कोई और नहीं बल्कि खुद वहां का डॉक्टर ही है। खुद डॉक्टर MBBS है उसे अपने से ज़्यादा तांत्रिक बाबा पर भरोसा था।

अब उस पूरी घटना का वीडियो सामने आया है, जिसमे एक तांत्रिक अस्पताल के ICU में तंत्र मंत्र कर रहा है। तांत्रिक वीडियो में जींस और टी- शर्ट पहने दिखाई दे रहा है। पहले वो अपने झोले से तंत्र मंत्र का सामान निकलता है। सारे सामान को महिला मरीज़ के बेड के चारों तरफ फैला देता है और फिर वो ICU में महिला मरीज को मंत्र और जाप करवाता है। इस पूजा में खुद डॉक्टर उसकी मदद करता दिखाई देता है। वो मंत्र के दौरान इस्तेमाल किए जाने वाले पूजा के फूल, पत्ते इत्यादि पकडे रहता है। इतना ही नहीं डॉक्टर ने इस पूजा में तांत्रिक की मदद करने के लिए वहां दो नर्स को भी बुला रखा है।

संध्या सोनवणे

दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल ICU में हुई पूजा

जानकारी के मुताबिक, 24 वर्षीय संध्या सोनवणे को इलाज के लिए पुणे के स्वारगेट इलाके में डॉ. सतीश चौहान के अस्पताल में भर्ती किया गया। संध्या सोनवणे के सीने में ट्यूमर हो गया था। जिसे निकालने के लिया ऑपरेशन भी किया गया था लेकिन उसे कोई फायदा नहीं हो रहा था। जिसके बाद डॉ. सतीश चौहान ने परिवार वाले को मरीज को दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल में भर्ती करवाने की सलाह दी। ताकि मरीज़ को ICU स्पेशल रूम में 24 घंटे निगरानी में रखा जा सके।

खुद डॉक्टर भी दो दिन तक हवन करता रहा

इस बीच दो दिन तक डॉक्टर सतीश अस्पताल में नहीं आए और जब सन्धाय का परिवार ने उनसे पूछा तो बताया की वो 2 दिन किसी से नहीं मिलेंगे और न ही बात करेंगे। वो पूजा- पाठ और ध्यान में बैठे हैं ताकि उनके सारे मरीज़ जल्दी ठीक हो जाए। संध्या के परिवार के मुताबिक जब वो डॉ जगताप के भर्ती थी तब भी डॉक्टर ने ये कहकर ऑपरेशन से मना कर दिया था कि, शाम 6 से 7 का समय राहु का होता है और ये समय बहुत अशुभ होता है। इसलिए ऑपरेशन रात 8 बजे के बाद किया जाएगा।

डॉ ने लाया तांत्रिक

संध्या के भाई ने बताया कि तांत्रिक खुद अचानक डॉ. सतीश अपने साथ लेकर आए थे। वो खुद तांत्रिक बाबा को देखकर चकित थे। फिर उनके कहने पर ही तांत्रिक ने अस्पताल मंत्रोच्चार करके पूजा पाठ शुरू कर दिया। मगर फिर भी मरीज ने दम तोड़ दिया।

दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल के PRO के मुताबिक, उन्हें इस बात कि जाकारी नहीं है कि अस्पताल के ICU में क्या हुआ था। अगर वहां जादू टोना और तांत्रिक जैसी चीज़ हुई है तो अस्पताल के वरिष्ठ डॉक्टर और मैनेजमेंट यह निर्णय लेंगे कि इस मामले में क्या कार्रवाई करनी।

बॉलीवुड को लगा एक और सदमा, इस अभिनेता का हुआ निधन

Previous article

महाराष्ट्र: सीएम फडणवीस का बड़ा ऐलान- वर्ष 2008 में छूटे किसानों को ऋण माफी के दायरे में लाया जाएगा

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami