पकड़ा गया पत्रकार गौरी लंकेश को मारने वाला शूटर,SIT का दावा क़ुबूल किया अपना गुनाह

आखिरकार लंबी तफ्तीश के बाद पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड में SIT को बड़ी कामयाबी मिली है. मामले में जांच टीम के हाँथ वो शूटर लग गया गया है जिसने गौरी पर गोलियां चलाई थी. संदिग्ध शूटर को SIT ने महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया है. सूत्रों की मानें तो आरोपी ने पूछताछ में कई खुलासे किये हैं. फिलहाल जांच टीम उसे लेकर निकल गयी है और इसकी जानकारी महाराष्ट्र पुलिस को भी दे दी गयी है.

सूत्रों की मानें तो कहा जा रहा है कि शूटर ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. पकडे गए आरोप परशुराम वाघमारे की उम्र उम्र लगभग 30 साल है. जांच टीम को फिलहाल इस लिए भी दिक्कत वह सिर्फ मराठी बोल पाता है. जांच में उसके पास अब तक वो हथियार बरामद नहीं किया जा सका है जिसका इस्तेमाल गौरी लंकेश की हत्या के लिए किया गया था. आरोपी की गिरफ्तारी साइंटिफिक जांच और CCTV के अध्यन के बाद किया गया है.

इससे पहले SIT ने इसी मामले में केटी नवीन कुमार को भी गिरफ्तार किया था.नविन पर हथियार सप्लाई करने का आरोप था और उसने पूछताछ में माना था की गौरी की हत्या के लिए उसी ने आर्म्स की सप्लाई की थी. पूछताछ में नविन ने ये भी खुलासा किया था की गौरी के बाद तर्कशास्त्री प्रोफ़ेसर केएस भगवान की हत्या करने की योजना थी. नवीन कुमार का 12 पेज का क़बूलनामा इस मामले में दाख़िल चार्जशीट का हिस्सा भी है. गौरी लंकेश की हत्या उनके घर के बाहर ही गोली मारकर कर दी गई थी.


Close Bitnami banner
Bitnami