औरंगाबाद में आंतराष्ट्रीय इज्तेमा की शुरुवात, लाखों की संख्या में शामिल हो रहे है लोग

महाराष्ट्र के औरंगाबाद के लिंबे जलगांव में 24 25 और 26 फरवरी को राज्य स्तरीय इज्तेमा का आयोजन शुरुवात हो गई है। इस आयोजन में भाग लेने के लिए देश विदेश से लाखों की संख्या में लोग औरंगाबाद पहुँच रहे है। आयोजन के पहले दिन तब्लीगी जमात के अमीर मौलाना मोहम्मद साद उलेमा से ख़िताब करेंगे इससे पहले मौलाना साद की इमामत में लाखों लोगों ने जुमा की नमाज़ अदा की। इस मौके पर मौलाना जमशीद ने लोगों को सम्बोधित करते हुए इस्लाम में जुमा की अहमियत क्या है उसे बताया है।

बता दे कि नमाज़ जुमा में शिरकत करने के लिए औरंगाबाद और उसके आस पास के शहरों से बड़ी संख्या में लोग अपने निजी गाड़ियों, ट्रेन और बसों से पहुँच रहे है। इज्तेमा आयोजन के दूसरे दिन यानी 25 तारीख को तीन हज़ार से अधिक जोड़ों का सामूहिक विवाह कराया जाएगा। उसके बाद 26 फरवरी शाम को मौलाना साद की दुआ के साथ इज्तेमा समाप्त हो जायेगा।

इज्तेमा आयोजन में शामिल होने वाले लोगों के लिए 7 से 8 विशेष ट्रेनें चलाई जा रही है। इज्तेमा में आने वाले लोगों के लिए स्टेशन और बस स्टैंड पर रहने,खाने और नमाज़ की व्यवस्था की गई है। वही इज्तेमा में सुरक्षा व्यवस्था की बात करे तो 5 हज़ार से अधिक पुलिस के जवान और उतना ही वालेंटियर्स को तैनात किया गया है।


Close Bitnami banner
Bitnami