VIDEO: बिजली विभाग ने भेजा 8 लाख के बिजली बिल से घबराकर किसान ने कर ली ख़ुदकुशी

महाराष्ट्र के औरनागाबाद में राज्य बिजली बोर्ड की बड़ी लापरवाही का एक बड़ा मामला सामने आया है। विभाग ने एक मामूली सब्जी बेचने वाले को आठ लाख 57 हजार रुपए का बिजली का बिल भेज दिया। किसान इस बिल से इस क़दर घबरा गया कि उसने परेशान होकर ख़ुदकुशी कर ली। अब जब ये मामला सामने आया है तो महावितरण अधिकारी को लापरवाही के लिए ज़िम्मेदार मानकर उसे निलंबित कर दिया गया है।

जानकारी के मुतबिक मामला औरंगाबाद के गारखेड़ा क्षेत्र का है। जहाँ किसान और सब्जी विक्रेता जगन्नाथ नेहाजी शेलके अपने परिवार के साथ रहते है। शेलके को जब पिछले महीने का बिजली बिल आया तो उन्हें बड़ा झटका लगा। महावितरण ने उन्हें 2,803 रुपये बिल की जगह 8 लाख 64 हजार रुपये का बिल दे दिया। जबकि उनके घर में इसी वर्ष जनवरी महीने में नया मीटर लगा था और उनके मीटर की रीडिंग 6117 यूनिट थी। लेकिन रीडिंग लिखने वाले कर्मचारी ने गलती की और 61178 यूनिट लिख दिया। इसके बाद उन्हें 27 अप्रैल 2017 से मई के दौरान उन्होंने 55 हजार 519 बिजली यूनिट का बिल भेज दिया। जिसमे टोटल राशि आठ लाख 57 हजार 570 रुपए था। और भरने के लिए आखिरी तिथि 7 मई दी गई थी।

इस बिल से शेलके परेशान हो गए और उन्होंने कई बार बिजली विभाग का चक्कर भी लगाया। लेकिन उनकी किसी ने नहीं सुनी। हारकर उन्होंने ख़ुदकुशी कर ली। पुलिस ने उनके घर से पुलिस ने सुसाइड नोट बरामद किया है। इसमें भारी भरकम बिजली का बिल होने के कारण जान देने को मजबूर होने की बात कही गई है। अब मामला सामने आने के बाद महावितरण अधिकारी को लापरवाही के लिए ज़िम्मेदार मानकर उसे निलंबित कर दिया गया है।


Close Bitnami banner
Bitnami