कांग्रेसियों ने अपने ही महिला कार्यकर्ता से की छेड़छाड़,कठुआ गैंगरेप के प्रोटेस्ट के दौरान हुई घटना

कठुआ गैंगरेप की घटना के विरोध में 15 अप्रैल को मुंबई कांग्रेस की तरफ से आयोजित कैंडल मार्च में एक महिला कांग्रेसी कार्यकर्ता से छेड़छाड़ की घटना सामने आई है। महिला ने छेड़छाड़ की घटना की शिकायत मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम से की है। महिला का आरोप है कि कैंडल मार्च के दौरान पुरुष कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महिला कार्यकर्ता को गलत तरीके से छूने की कोशिश की और उनके साथ धक्कामुक्की की है। महिला कार्यकर्ता से छेड़छाड़ कि शिकायत मिलते ही संजय निरुपम ने महिला को आश्वाशन दिया है दोषी पर जल्द ही कार्यवाही की जाएगी।

बता दे कि यह विरोध प्रदर्शन जुहू में आयोजित किया गया था। जानकारी के अनुसार निरुपम ने बताया कि महिला ने उन्हें इस कथित घटना के बारे में संदेश भेजा था। निरुपम ने बताया कि महिला जिला स्तर की पार्टी कार्यकर्ता हैं। अपने संदेश में महिला ने कहा- ‘‘युवा कांग्रेस और पार्टी की छात्र इकाई एनएसयूआई के कार्यकर्ता इस हद तक नीचे गिर गए थे कि उन्होंने हमें अपनी अपनी ही पार्टी के पुरुष सहयोगियों के बीच असुरक्षित महसूस कराने के लिए महिला कार्यकर्ताओं को गलत तरीके से छुआ और धक्का दिया।’’

महिला ने अपने सन्देश में लिखा है कि कुछ पुरुष कार्यकर्ता हमसे आगे निकलने की कोशिश कर रहे थे। ताकि मीडिया में उनका चेहरा आ सके। इसके चक्कर में कार्यकर्ता हमसे धक्कामुक्की करने लगे। मै सिर्फ यही जानना चाहती हूँ कि क्या आगे इस तरह के आगे कार्यक्रमों में महिला कार्यकर्ता सुरक्षित है। वही संजय निरुपम ने इस घटना कि कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि ये घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। संजय ने महिला से कहा कि अगर उनलोगों को पहचान जाए तो उनके ऊपर कार्यवाही करें वो उनकी मदद करेंगे.लेकिन महिला ने कहा कैंडल मार्च में काफी भीड़ थी इसकी वजह से छेड़छाड़ करने वाले कार्यकर्ताओं को ठीक तरह से नहीं देख पाई।


Close Bitnami banner
Bitnami