15 C
Munich
Tuesday, May 21, 2024

‘सिंदूर और मंगलसूत्र’ वाले बयान को लेकर बढ़ी पंडित धीरेंद्र शास्त्री की मुश्किलें, महिला आयोग में शिकायत दर्ज

बागेश्वर धाम के बाबा पंडित धीरेंद्र शास्त्री अपने एक बयान को लेकर विवादों में आ गए हैं. उन्होंने महिलाओं को लेकर एक ऐसा बयान दिया है, जिस पर महिला संगठनों ने आपत्ति जताई है. आजाद अधिकार सेना नामक संगठन की राष्ट्रीय महासचिव नूतन ठाकुर ने बाबा बागेश्वर धाम प्रमुख धीरेंद्र शास्त्री के इस बयान के खिलाफ राष्ट्रीय महिला आयोग से शिकायत की है. धीरेंद्र शास्त्री ने ग्रेटर नोएडा में अपनी कथा के दौरान महिलाओं के सिंदूर और मंगलसूत्र का जिक्र करते हुए उनकी तुलना खाली प्लॉट से की है.

समाजसेविका नूतन ठाकुर ने आरोप लगाए हैं कि धीरेंद्र शास्त्री ने ग्रेटर नोएडा में आयोजित भागवत कथा के दौरान महिलाओं के लिए अपशब्द कहे, जिसकी वजह से भारत की महिलाएं अपने आप को लज्जित और अपमानित महसूस कर रही हैं. उन्होंने दावा किया कि धीरेंद्र शास्त्री के बयान के बाद से सोशल मीडिया पर मीम बनाकर महिलाओं के लिए तमाम प्रकार की अभद्र टिप्पणियां की जा रही हैं.

नूतन ठाकुर का कहना है कि ‘‘धीरेंद्र शास्त्री ने ग्रेटर नोएडा में अपनी कथा के दौरान कहा कि जिन महिलाओं की मांग में सिंदूर और गले में मंगलसूत्र नहीं है उनके बारे में हम समझते हैं कि यह प्लॉट अभी खाली है.’’ ठाकुर ने कहा कि एक महिला की तुलना प्लॉट से किया जाना और महिलाओं के संबंध में इस प्रकार की अमर्यादित टिप्पणी किया जाना अनुचित है. साथ ही यह महिलाओं के सम्मान के साथ खिलवाड़ है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय महिला आयोग से इन तथ्यों को संज्ञान में लेते हुए अविलंब करवाई की मांग की गई है.

गौरतलब है कि बाबा बागेश्वर धाम सरकार ने ग्रेटर नोएडा में सात दिवसीय भागवत कथा की थी, जिसका समापण गत शनिवार को हुआ था. इस दौरान उन्होंने कहा था कि “जिस स्त्री की शादी हो गई है उसकी दो पहचान होती है सिंदूर और मंगलसूत्र. जिस स्त्री की मांग में सिंदूर और गले में मंगलसूत्र न हो तो समझिए प्लॉट खाली है.”
WITN

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article