15 C
Munich
Tuesday, May 21, 2024

बुधवार: मनचाहा लाभ पाने के लिए करें भगवान गणेश के इन मंत्रों का जाप, दरिद्रता होगी दूर 

भगवान गणेश सभी देवताओं में सर्वप्रथम पूजनीय माने जाते हैं. मान्यता है कि कोई भी शुभ कार्य शुरू करने से पहले गणेश भगवान की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है. गणेश भगवान का ध्यान करने मात्र से ही सारे दुखों से छुटकारा मिल जाता है. तो वहीं  बुधवार के दिन गणेश भगवान के कुछ मंत्रों के जाप से दरिद्रता दूर होती है और मनचाहा लाभ मिलता है. चलिए जानते हैं गणपति के इन चमत्कारी मंत्रों के बारे में.

गणपति के चमत्कारी मंत्र 

‘ॐ गं गणपतये नमः’

गजानंद का ये एकाक्षर मंत्र भगवान गणेश के सबसे सरल और प्रभावी मंत्रों में एक है. बुधवार के दिन इस मंत्र के उच्चारण मात्र से ही भक्तों के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं. बुधवार के दिन इस मंत्र का कम से कम 108 बार जाप करें. इससे काम में आने वाली सारी बाधाएं दूर होती हैं साथी ही मनोकामनाओं की पूर्ति होती है.

‘ॐ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्य कोटि समप्रभ:।
निर्विघ्नं कुरू मे देव, सर्व कार्येषु सर्वदा।।’

भगवान गणेश की सभी पूजा में इस मंत्र का जाप जरूर करना चाहिए. माना जाता है कि इस मंत्र के जाप से बप्पा प्रसन्न होते हैं और भक्तों पर अपनी कृपा बरसाते हैं. इस मंत्र का जाप धन लाभ के मार्ग खोलता है.

‘ॐ एकदन्ताय विहे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्तिः प्रचोदयात्।’

इसे श्री गणेश का गायत्री मंत्र कहा जाता है जो विशेष फलदायी माना जाता है. बुधवार की पूजा में इस मंत्र का 108 बार जाप करने से व्यक्ति को भाग्य का साथ मिलने लगता है. इसके जाप से सभी कार्य अनुकूल सिद्ध होते हैं और भगवान गणेश की विशेष कृपा भी प्राप्त होती है.

‘ॐ ऐं ह्वीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे’

कुंडली में बुध ग्रह से संबंधित दोष को दूर करने करे लिए इस मंत्र का जाप बेहद प्रभावी माना गया है.

‘ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा।’

गणेश कुबेर मंत्र आप प्रतिदिन या बुधवार की पूजा में एक माला (108 बार) जाप करें. इससे आर्थिक समस्या दूर होती है और कर्ज से भी मुक्ति मिलती है. बुधवार के दिन बुध ग्रह को भी प्रसन्न करने के लिए उत्तम माना जाता है. इस दिन ‘ॐ बुं बुधाय नमः’ और ‘ॐ ऐं श्रीं श्रीं बुधाय नमः!’ के जाप से सारे कष्ट दूर हो जाते हैं.

WITN

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article