7.9 C
Munich
Tuesday, April 16, 2024

स्मोकिंग पर चेतावनी को लेकर सरकार के साथ भिड़ने को तैयार Netflix, डिज्नी और Amazon

ब्रॉडकास्ट के दौरान तंबाकू चेतावनी संबंधी भारत सरकार के नए नियम के मद्देनजर नेटफ्लिक्स (Netflix), एमेजॉन और डिज्नी जैसी प्रमुख स्ट्रीमिंग कंपनियों ने शुक्रवार को एक गोपनीय बैठक की।

सूत्रों ने बताया कि बैठक में सरकार के नए नियमों के खिलाफ कानूनी विकल्पों एवं अन्य तरीकों के बारे में चर्चा की गई। इन कंपनियों को आशंका है कि नए नियमों पर अमल करने के लिए उन्हें लाखों घंटों की अपनी मौजूदा सामग्री में काफी सुधार करना पड़ेगा।

यह नया कदम तेजी से बढ़ने वाली स्ट्रीमिंग कंपनियों के लिए सिरदर्द बन गया है। कंपनियों को अक्सर अपनी सामग्री से धार्मिक भावनाएं आहत करने के लिए कानूनी मुकदमों और पुलिस की शिकातयों का सामना करना पड़ता है।

भारत के तंबाकू विरोधी अभियान के तहत स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस सप्ताह सभी स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म को आदेश दिया है कि वे अपनी सामग्री में तीन महीने के भीतर धूम्रपान के दृश्यों के दौरान स्वास्थ्य चेतावनी डालें। साथ ही सरकार चाहती है कि किसी भी कार्यक्रम की शुरुआत और बीच में 50 सेकेंड का एक ऑडियो-विजुअल डिस्क्लेमर भी डाला जाए।

इस मामले से अवगत दो सूत्रों ने बताया कि तीन प्रमुख वैश्विक स्ट्रीमिंग कंपनियों के अधिकारियों और भारत में जियो सिनेमा का संचालन करने वाली कंपनी वायकॉम18 के अधिकारियों ने एक बंद कमरे में बैठक की। बैठक के दौरान नेटफ्लिक्स ने कहा कि इन नियमों से उपभोक्ता अनुभव प्रभावित होगा और प्रोडक्शन कंपनियों को भारत में अपनी सामग्री रोकनी पड़ेगी।

एक सूत्र ने बताया कि भारत में अधिकारियों ने सरकार के इस नियम के खिलाफ कानूनी विकल्पों पर भी चर्चा की। उनका कहना है कि स्ट्रीमिंग कंपनियों पर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अधिकार है न की स्वास्थ्य मंत्रालय का।

इन कंपनियों और स्वास्थ्य मंत्रालय ने रॉयटर्स के सवाल पर किसी भी तरह की टिप्पणी नहीं की है। रॉयटर्स ने ही सबसे पहले यह जानकारी दी थी।

अभी देश के सिनेमाघरों और टीवी पर फिल्मों में धूम्रपान और शराब पीने के सभी दृश्यों को कानून के तहत स्वास्थ्य चेतावनी की जारी की जाती है, लेकिन अभी तक स्ट्रीमिंग कंपनियों के लिए ऐसे कोई नियम नहीं थे। इससे इनकी सामग्री तेजी से लोकप्रिय हो गई है।

साल 2013 में वुडी एलन ने अपनी फिल्म ब्लू जैसमीन को भारत में प्रदर्शित होने से रोक दिया था। उन्हें जब यह पता चला कि फिल्म के धूम्रपान दृश्यों में तंबाकू विरोधी चेतावनी अनिवार्य रूप से डाली जाएगी तो उन्होंने फिल्म को भारत में प्रदर्शित नहीं किया।

स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने सरकार द्वारा लाए गए तंबाकू विरोधी नए नियमों का स्वागत किया है। भारत का दुनिया दूसरा सबसे बड़ा तंबाकू उत्पादक राज्य है, जहां हर साल इसके सेवन से 13 लाख लोगों की जानें जाती हैं। भारत में सिगरेट के पैकेटों पर भी सख्त चेतावनी लिखी जाती है।

WITN

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article