3.8 C
Munich
Sunday, February 25, 2024

“किसी के वश में है लड़का”, तांत्रिक के कहने पर भूत भगाने के लिए कर दी पिटाई, युवक की हुई मौत

महाराष्ट्र के सांगली जिले में कथित रूप से एक तांत्रिक की जबरदस्त पिटाई के कारण 14 साल के बीमार लड़के की मौत हो गई. तांत्रिक का दावा था कि लड़का किसी के वश में था. एक अधिकारी ने बताया कि जिले के कवठे महांकाल में रहने वाले आर्यन दीपक लांडगे की 20 मई को मौत हो गई थी, लेकिन अंधविश्वास विरोधी कार्यकर्ताओं के पुलिस से संपर्क करने के बाद यह घटना सामने आई.

अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति के कार्यकर्ताओं की शिकायत के अनुसार, लांडगे को कई दिनों से बुखार था और इलाज के बावजूद उसे कोई राहत नहीं मिल रही थी. अधिकारी ने कहा कि उसका परिवार उसे पड़ोसी कर्नाटक के शिरगुर में एक ‘मांत्रिक’ (तांत्रिक) अप्पासाहेब कांबले के पास ले गया.

कांबले ने दावा किया कि लड़के पर ‘‘भूत’’ का साया है और भूत को भगाने के लिए उसे लांडगे की पिटाई करनी होगी. अधिकारी ने कहा कि पिटाई के कारण लड़का गंभीर रूप से घायल हो गया जिसके बाद उसके परिवार के लोग उसे शिरगुर से करीब 40 किलोमीटर दूर सांगली जिले में मिराज के एक अस्पताल ले गए. लेकिन उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई.

लांडगे की मौत की खबर जानकर अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति के कार्यकर्ताओं ने लड़के के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की और फिर कवठे महांकाल थाने में सहायक पुलिस निरीक्षक जितेंद्र शाहणे से मिलकर शिकायत दर्ज कराई. अधिकारी ने कहा कि कर्नाटक में कोई अंधविश्वास विरोधी कानून नहीं है, इसलिए पुलिस ने तांत्रिक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 304 (लापरवाही से मौत) के तहत शून्य प्राथमिकी दर्ज की.

WITN

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article