15 C
Munich
Tuesday, May 21, 2024

Maharashtra: शरद पवार का अजित पवार गुट पर निशाना- ‘जिन्होंने मेरी विचारधारा के साथ धोखा किया वे मेरी तस्वीर…’

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार की एनसीपी में फूट पड़ चुकी है. न सिर्फ फूट पड़ी है बल्कि अजित पवार का खेमा एनसीपी पर दावा तक ठोंक चुका है. ऐसे में शरद पवार के सामने चुनौती है कि वो कैसे पार्टी को बचाते हैं. अजित पवार का खेमा ये भी दावा कर रहा है कि अभी और विधयाक सरकार में शामिल होंगे. 40 से ज्यादा विधायकों के समर्थन का दावा किया जा रहा है. इस बीच मंगलवार (4 जुलाई) को शरद पवार ने कहा कि जिन्होंने उनकी विचारधारा के साथ ‘धोखा किया’ उन्हें उनकी तस्वीर का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

शरद पवार ने कहा, ‘‘ मैं जिस पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष हूं और जयंत पाटिल प्रदेश अध्यक्ष हैं, केवल वह (पार्टी) ही मेरी तस्वीर का इस्तेमाल कर सकती है.’’ उन्होंने कहा कि यह उनका अधिकार है कि वह फैसला करें कि किसे उनकी तस्वीर का इस्तेमाल करना चाहिए.

एनसीपी अध्यक्ष ने कहा, ‘‘जिन्होंने मेरी विचारधारा को धोखा दिया और जिनके साथ मेरे वैचारिक मतभेद हैं वे मेरी तस्वीर का इस्तेमाल नहीं कर सकते.’’ उनका यह बयान उनके भतीजे अजित पवार और एनसीपी के आठ अन्य विधायकों के महाराष्ट्र की शिवसेना- भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार में शामिल होने के दो दिन बाद आया है. अजित पवार गुट ने भी जयंत पाटिल को एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया है. पाटिल ने विधानसभा अध्यक्ष को अर्जी देकर अजित पवार और उनके अन्य सहयोगी विधायकों को सदन की सदस्यता से अयोग्य करार देने का अनुरोध किया है.

शरद पवार और अजित पवार के गुट बुधवार (5 जुलाई) को अलग-अलग बैठक करने वाले हैं. शरद पवार दक्षिण मुंबई के यशवंतराव चव्हाण केंद्र में और अजित पवार का गुट उपनगरीय बांद्रा में भुजबल नॉलेज सिटी में अपनी बैठक करेगा. शरद पवार ने अपने साथ के विधायकों के साथ बैठक बुलाई है. वहीं शिंदे सरकार में शामिल हो चुके अजित पवार का गुट सुबह 11 बजे बैठक करेगा. शिंदे सरकार में अजित पवार के साथ दिलीप वाल्से पाटिल, छगन भुजबल और हसन मुश्रीफ सहित कुल नौ एनसीपी विधायक शामिल हो गए.

WITN

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article