0

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में पिछले कई दिनों से जारी कचरा डंपिंग विवाद ने आज हिंसक रूप धारन कर लिया है। औरंगाबाद के नारे गांव में कचरा डंपिंग का विरोध कर रहे हज़ारों लोग सड़कों पर उतर आए और कचरा लेकर जाने वाली गाड़ियों पर पथराव कर दिया। लोगों की भीड़ ने अन्य कई गाड़ियों को अपना निशाना बनाया।

वही लोगों की भीड़ को तीथर बिथर करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज और आंसू गैस के गोले तक दागने पड़े। वही गुस्साए लोगों ने पुलिस पर भी पथराव कर दिया। लोगों के पथराव में पुलिस के 6 जवान भी जख्मी हो गए। इस वक़्त औरंगाबाद के नाने गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है।

बता दे कि औरंगाबाद के नाने गांव में पिछले 30 सालों से कचरा डंपिंग किया जाता है। हररोज वहां पर 611 टन कचरा जमा होता है। लोगों कि मांग है कि यहाँ कचरा डंपिंग बंद किया जाए जिसे लेकर गांव वाले पिछले कई दिनों से विरोध प्रदर्शन भी कर रहे है। लोगों का कहना है कि कचरा डंपिंग होने की वजह से यहाँ की जमीन और पिने का पानी प्रदूषित हो रहा है। परिसर में भारी मात्रा में हो रहे डंपिंग की वजह से लोगों के शरीर और त्वचा पर उसका असर पड़ रहा है। बड़ी संख्या में लोग बीमार पड़ रहे है। यहाँ तक कचरा डंपिंग की समस्या की वजह से इस गांव में कोई शादी के लिए अपनी बेटी नहीं देना चाह रहा है।

Rahul Pandey

महाराष्ट्र सरकार का ये बड़ा फैसला ! अगर ये किया तो जाओगे सीधे जेल

Previous article

खुशखबरी, इस तारीख को होने जा रही है रणवीर और दीपिका की शादी

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.