0

श्रीलंका सीरियल बम ब्लास्ट का सीसीटीवी ( CCTV) फुटेज सामने आया है। जिसमें फिदाइन हमलावर जिसका फुटेज साफ तो नज़र नहीं आ रहा है। लेकिन उसके कंधे पर एक भारी बैग दिखाई दे रहा है। शक है की इसी फिदायीन ने चर्च में विस्फोटक प्लांट किया था। और उसके कंधे पर जो बैग उसी में विस्फोटक लाया गया था।

28 सेकंड का ये वीडियो कोलंबो के संत सेबेस्टियन चर्च का है। संदिग्ध हमलावर नीली शर्ट में चर्च में दाखिल होते हुए दिखाई दे रहा है। जिसके महज़ कुछ ही मिनट के बाद ज़ोरदार धमाका हुआ था।

देखिए VIDEO

वहीं श्रीलंका के एक वरिष्ठ मंत्री ने मंगलवार को कहा कि देश में गत रविवार को ईस्टर के मौके पर गिरजाघरों और होटलों को निशाना बनाकर किए गए हमले न्यूजीलैंड में मस्जिदों पर की गई गोलीबारी का बदला थे। श्रीलंका के रक्षा मंत्री रुवन विजयवर्द्धने ने संसद को संबोधित करते हुए बताया कि प्राथमिक जांच में पता चला है कि घातक धमाके क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में हुई गोलीबारी का बदला हैं, जिसमें 50 लोगों की जान चली गई थी। विजयवर्द्धने ने साथ ही बताया कि हमले में घायल 500 में से 375 का इलाज अब भी अस्पताल में जारी है।

श्रीलंका सरकार ने कहा है कि ईस्टर के मौके पर रविवार को देश में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों की वजह से हुई विनाश की घटना कल्पना से परे थी और खुफिया जानकारी पहले मिल जाने के बावजूद देश में बड़ी संख्या में मौजूद गिरजाघरों को सुरक्षा प्रदान करना तकरीबन ‘असंभव था। इन हमलों में 10 भारतीयों समेत 310 लोगों की मौत हो गई है।

देश के रक्षा मंत्री हेमासिरी फर्नांडो ने मंगलवार को स्थानीय मीडिया से यह बात कही। माना जा रहा है कि सात आत्मघाती हमलावरों ने इन हमलों को अंजाम दिया। इनका संबंध स्थानीय कट्टर इस्लामिक संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) से माना जा रहा है। हालांकि किसी समूह ने सीधे इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है।

फर्नांडो ने कहा कि, ”इन हमलों की जानकारी पहले मिल जाने के बाद भी गत रविवार को इतनी अधिक संख्या में मौजूद चर्चों को सुरक्षा प्रदान करना असंभव था। उन्होंने संडे टाइम्स से कहा कि सरकार ने कल्पना नहीं की थी कि इतने बड़े पैमाने पर हमले को अंजाम दिया जायेगा।

फर्नांडो ने कहा कि देश की खुफिया एजेंसियों ने सरकार को पहले ही सूचित कर दिया था कि देश में एक छोटा लेकिन ताकतवर आपराधिक समूह सक्रिय है। इससे पहले इन हमलों में मारे गए लोगों की याद में देश में तीन मिनट का मौन रखा गया। इस दौरान राष्ट्रीय ध्वज झुका दिये गए। यह रस्मी शोक सुबह साढ़े आठ बजे शुरू हुआ।

गौरतलब है कि श्रीलंका में रविवार को गिरजाघरों तथा पांच सितारा होटलों को निशाना बनाकर किये गए सिलसिलेवार धमाकों में 321 लोगों की जान चली गई है और अन्य 500 लोग घायल हुए हैं।

VIDEO: शराब के नशे में तेलुगु अभिनेत्री ने IPL मैच में किया ऐसा हंगामा, पुलिस केस दर्ज

Previous article

पीएम नरेंद्र मोदी के लिए अक्षय कुमार बने पत्रकार, लिया इंटरव्यू

Next article

You may also like

More in Crime

Comments

Comments are closed.